स्यांज बगड़ा में बच्चों के भविष्य से खिलवाड़, वर्षों से शिक्षकों के चार पद खाली #news4
May 9th, 2022 | Post by :- | 93 Views

मंडी जिला के उपमंडल करसोग में कोरोना काल में दो साल बाद खुले स्कूलों में शिक्षकों के खाली पद होने से छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ हो रहा है। यहां राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशला स्यांज बगड़ा में पिछले कई सालों से शिक्षकों के चार पद खाली चल रहे हैं। इस वजह से विद्यार्थियों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है।

एसएमसी अध्यक्ष सोमकृष्ण की अध्यक्षता में स्कूल प्रबंधन समिति की बैठक आयोजित हुई। इसमें समिति के सभी सदस्यों ने चिंता जताते हुए तुरंत प्रभाव से खाली चल रहे शिक्षकों के पदों को भरे जाने की मांग की। स्कूल में खाली चल रहे पालिटिकल साइंस, शास्त्री, कला अध्यापक व पीईटी के पदों को भरे जाने के लिए प्रस्ताव भी पारित किया गया।

बता दें कि राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशला स्यांज बगड़ा में पीईटी का पद 10 सालों से रिक्त है। इसी तरह से शास्त्री का पद चार सालों व कला अध्यापक का पद डेढ़ वर्ष से खाली चल रहा हैं। ऐसे में

एसएमसी ने जल्द से जल्द खाली पदों को भरने की मांग की है।

स्कूल प्रबंधन समिति के अध्यक्ष सोमकृष्ण का कहना है कि स्याज बगड़ा में चार शिक्षकों के पद खाली चल रहे हैं, जिससे छात्रों की पढ़ाई पर असर पड़ रहा है। इसको देखते हुए स्कूल प्रबंधन समिति की एक बैठक हुई, जिसमें पदों को भरे जाने का प्रस्ताव पारित किया गया।

क्या कहते हैं अधिकारी

उपनिदेशक प्रारंभिक शिक्षा अमरनाथ का कहना है कि पीईटी व शास्त्री का विषय न्यायालय में विचाराधीन है। जैसे ही कोई निर्णय आता है नियुक्तियां कर दी जाएंगी। कला अध्यापक की नियुक्ति जल्द ही कर दी जाएगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।