दोस्तो क्या आप चाहते हैं अमीषा विटिया को उसके पापा सही सलामत मिले, तो उनकी जिंदगियां बचाने में सहयोग करे।
January 8th, 2020 | Post by :- | 294 Views

अमीषा के पापा को नगरोटा सुरियां हस्पताल से टांडा हस्पताल ले जाये हुए पूरे 7 दिन बीत गए हैं , उसके साथ गयी उसकी माता परवीन कुमारी रोज अमीषा को फोन करके बताती हैं कि बड़ी जल्दी पापा ठीक होकर घर आ जाएंगे लेकिन आज 7 दिन गुजर गए पर पापा तो घर आये नही अमीषा का बाल तुल्य मन बेचैन हो उठता है ,दोस्तो अमीषा अभी सिर्फ लगभग 10 साल की है और अपने पापा देश राज से बहुत प्यार करती है , कुछ दिन पहले उसके पापा मजदूरी करके शाम को घर बापिस आये तो घर पर पशुओं के लिये चारा ना होने की वजह से एक पेड़ पर चारा निकालने गए तभी उनका पांव फिसला ओर वो बहुत ऊंचाई से नीचे गिर गए ,घर व पड़ोसी जल्द ही देश राज को उठा कर पास के सरकारी हस्पताल ले गए जंहा से देश राज को टांडा रैफर कर दिया ,तब से आज तक अमीषा ने अपने पापा का मुह नही देखा है ,दूसरी तरफ टांडा हस्पताल में जाते ही देश राज को सीसीयू में दाखिल कर दिया और बाहर खड़ी देश राज की पत्नी को दवाइयों की लिस्ट पकड़ा कर बाहर केमिस्ट से लाने को बोला परवीन बेतहासा दौड़ती हुई दुकान तक पहुंच तो गयी और लिस्ट मेडिकल स्टोर वाले को पकड़ा भी दी लेकि पति को इस हालत में देख कर बो यह भूल चुकी थी कि उज़के पास तो पैसे हैं ही नही ओर परवीन ने लिस्ट बापिस मांग कर वंही कोने में खड़ी होकर ,सिसक सिसक कर रोने लगी अपनी मजबूरी ओर लाचारी पर लेकिन तभी भगवान ने मौके पर रिश्ते में परवीन की किसी रिश्तेदार महिला को वँहा भेज दिया और उसने वो दवाइयां खरीद कर डेज़ह राज की पत्नी को पकड़ा दी , तब जाकर देश राज का उपचार शुरू हो पाया , लेकिन परवीन की समस्या यंही खत्म नही होती यह दवाइयों की लिस्ट उसे रोज पकड़ा दी जाती है वजह देश राज की चोटें बहुत गम्भीर है और अभी तक होश में नही आया है , उज़के इलाज में बहुत खर्चा आएगा को परवीन के बस की बात नही है, दोस्तो आज जब हम परवीन से मिले तो उस बहन का हाथ जोड़ कर यह बोलना की मेरे पति को बचा लो हमे अंदर तक कंपा गया उधर अमीषा अपने पापा के इंतजार में खाना पीना सब छोड़े हुए है , दोस्तो क्या आप चाहते हैं कि परवीन को 7स्का पति व अमीषा विटिया को उसके पापा सही सलामत मिले , दोस्तो आप सभी मित्रों ने पहले भी कई जिंदगियां बचाने में सहयोग किया है इस बार फिर आप सभी से विनम्रता से अपील करता हूँ आओ हम सब मिलकर अमीषा विटिया को उसके प्यारे पापा से सकुशलता पूर्वक मिलवाने की कोशिस करते हैं,

संजय

PNB Bank
Branch: Nagrota Surian
Bank a/c No: 0808000107183448
A/C Holder Name:

Parveen Kumari W/o Deshraj
IFSC Code:PUNB0080800

https://m.facebook.com

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।