कांगड़ा : मारपीट में घायल गग्गल के युवक रोहित की टांडा अस्पताल में मौत, 7 दिन बाद हारा जिंदगी की जंग #news4
September 14th, 2022 | Post by :- | 90 Views

कांगड़ा : गग्गल पुलिस थाना के अंतर्गत 8 सितम्बर को हुई मारपीट में घायल युवक रोहित (22) निवासी रछियालु ने घावों के ताव न सहते हुए डॉ. राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल टांडा में बुधवार सुबह दम तोड़ दिया। इस बात की सूचना जैसे फैली तो भारी संख्या में पुलिस दल टांडा में लगा दिया गया।

टांडा में आए परिजनों में रोष था और वे ड्यूटी में लापरवाही बरतने वाले पुलिस कर्मियों को निरस्त व दूरदाराज क्षेत्रों में तबादले की मांग कर रहे थे। वहीं पोस्टमार्टम के उपरांत रोहित के शव को पुलिस सुरक्षा में उसके घर लाया गया। रोहित का शव पहुंचते ही पूरा गांव मातम में डूब गया। इतना ही नहीं, इस दौरान परिवार और रिश्तेदारी में कई महिलाएं बेहोश हो गईं। कड़े पुलिस पहरे में रोहित का अंतिम संस्कार सनौरा के श्मशानघाट में किया गया। छोटे भाई अर्पण ने रोहित की चिता को मुखाग्नि दी।

पुलिस थाने से मात्र कुछ दूरी पर हुई थी घटना 
इस दौरान जिला परिषद सदस्य जोगिन्द्र सिंह, चचेरे भाई विजय कुमार ने बताया कि जिस दिन यह वाकया हुआ वह स्थल पुलिस थाना से मात्र कुछ दूरी पर है। जब पुलिस को सूचना देने के बाद भी पुलिस नहीं पहुंची तो मृतक के चचेरे भाई अमित को फोन किया, जिस पर वह उसे घर ले गया। रात्रि तबीयत ज्यादा खराब होने पर वे फिर 11 बजे पुलिस थाना पहुंचे। इसके बाद रोहित को उपचार के लिए तियारा अस्पताल ले जाया गया, जहां से डाॅक्टरों ने उसे धर्मशाला रैफर कर दिया। पुलिस ने परिजनों को अगले दिन सुबह 10 बजे थाना आने को कहा।

अस्पताल में देरी से पहुंचा पुलिस कर्मी, बिगड़ चुकी थी तबीयत
उन्होंने बताया कि पुलिस कर्मी उनके साथ धर्मशाला अस्पताल भेजा गया था वह किसी अन्य काम से पहले चला गया था और लगभग 12 बजे के बाद अस्पताल पहुंचा, जिसके आने के बाद रोहित का इलाज शुरू हुआ लेकिन तब तक उसकी तबीयत ज्यादा बिगड़ चुकी थी। रोहित को डाॅ. राजेन्द्र प्रसाद मेडिकल काॅलेज टांडा रफैर कर दिय, जहां बुधवार को प्रात: घावों के ताव न सहते हुए उसने दम तोड़ दिया। उन्होंने मामले में उचित न्याय दिलाने तथा गग्गल थाना के पुलिस कर्मचारियों के खिलाफ उचित कार्रवाई की भी मांग उठाई है। डीएसपी कांगड़ा मदन लाल ने कहा कि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। उल्लेखनीय है कि मृतक की माता का देहांत 2 वर्ष पूर्व सांप के काटने से हुआ था।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।