दसवीं की छात्रा को जबरन क्लिनिक में ले जाकर किया गैंगरेप
December 4th, 2019 | Post by :- | 108 Views

कानपुर। हैदराबाद डॉक्टर रेप व मर्डर मामला अभी तक ठंडा नहीं पड़ा है कि देश में अब भी कई जगह से रेप के मामले सामने आ रहे हैं। ताजा मामला उत्तर प्रदेश के कानपुर का है। दसवीं की छात्रा के साथ तीन लड़कों ने डॉक्टर के क्लिनिक में गैंगरेप किया। मामले को पुलिस ने भी गंभीर नहीं लिया और एफआईआर लिखने की जगह उससे समझौते का दबाव बनाती रही। मामला जब मीड‍िया में आया तो अधिकारियों ने एक्शन लेकर पीड़ित छात्रा की शिकायत दर्ज कर कार्रवाई शुरू की।
जानकारी के अनुसार कानपुर ज‍िला के एक गांव की रहने वाली छात्रा मंगलवार शाम परिवार के साथ गैंगरेप की एफआईआर कराने एसएसपी कानपुर के बंगले पर पहुंची थी। एसएसपी लखनऊ मीटिंग में गए थे, इसलिए ये लोग बंगले के बाहर खड़े थे। यहां मीड‍िया से बात करने पर पीड़ित छात्रा ने गैंगरेप और पुलिस की ढिलाई का खुलासा सबके सामने किया। छात्रा ने बताया क‍ि वह दसवीं की छात्रा है। 22 नवंबर को वह स्कूल जा रही थी तभी रास्ते में एक लड़के ने जबदस्ती उसे अपनी कार में बैठा लिया और उसे एक डॉक्टर के क्लिनिक में ले गया जहां डॉक्टर ने जबरन इंजेक्शन लगाकर उसे बेहोश कर दिया और उसके बाद दो और युवकों ने उसके साथ गैंगरेप किया। इसके बाद लड़के ने ही छात्रा की मां को यह सूचना दी क‍ि छात्रा हॉस्पिटल में बीमार पड़ी है। छात्रा की मां थाने गई तो दारोगा ने कहा कि मुआवजा ले लो, कुछ न करो। बिधनू पुलिस दो दिन से मामला दबाने में लगी रही।
मीड‍िया के दबाव में पुलिस ने पीड़िता की श‍िकायत लेकर जांच तो शुरू कर दी लेकिन मामला कई दिन पुराना दिखाकर अभी भी जांच के बाद कार्रवाई का रास्ता निकालने में जुटी द‍िख रही है। वहीं, एसपी प्रदुम्न सिंह का कहना है क‍ि आरोपी युवक को हिरासत में लेकर जांच की जा रही है। उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।