विवाह के लिए इजाजत दे दो सरकार, इस तारीख को शादी नहीं हुई तो दो साल करना पड़ेगा इंतजार
April 17th, 2020 | Post by :- | 203 Views

अभी शादी नहीं हुई तो सात फेरे लेने के लिए दो साल तक इंतजार करना पड़ेगा। इंदौरा के युवक ने प्रशासन से गुहार लगाई है कि उसे विवाह करने की इजाजत दी जाए। कोरोना महामारी के कारण कफ्र्यू लागू है और सभी गतिविधियां बंद हैं। साथ ही सांस्कृतिक, सामाजिक व धार्मिक कार्यक्रमों पर भी रोक है। इन हालात में कुछ लोग ऐसे हैं जो फ्रंटलाइन के योद्धा हैं। इनमें डॉक्टर, नर्से, पुलिस व सफाई कर्मचारी हैं।

इनमें से कुछ युवक-युवतियां ऐसे भी हैं, जिनके विवाह लॉकडाउन से पहले ही निर्धारित हो चुके हैं। डॉक्टर, नर्से व अन्य फ्रंटलाइन कर्मचारी ऐसे भी हैं, जिन्होंने फर्ज व देशहित में विवाह आगामी दिनों तक स्थगित कर दिए हैं।

इसके विपरीत जिला प्रशासन के पास ऐसे प्रार्थना पत्र भी आए हैं, जिनमें शुभ मुहूर्त पर ही शादी करने की गुहार लगाई गई है। सौरभ महाजन ने एसडीएम इंदौरा व डीसी कांगड़ा को पत्र लिखा है कि वह इंदौरा की निष्ठा कॉलोनी का रहने वाला है। उसकी शादी इंदपुर गांव में तय हुई है।

शादी के लिए तैयारियां हो चुकी हैं। सौरभ का तर्क है कि 17 व 18 अप्रैल को शादी नहीं हुई तो उसे कम से कम दो साल तक शुभ मुहूर्त का इंतजार करना पड़ेगा। गुहार लगाई है कि शादी के लिए घर से तीन-चार किलोमीटर दूर जाने की इजाजत दी जाए। यह भी तर्क दिया है कि कानून के दायरे में ही सारा काम किया जाएगा। सौरव ने प्रशासन से आग्रह किया है कि शादी के लिए पास दिया जाए।

नहीं दी जा सकती इजाजत

इन हालात में मेडिकल इमरजेंसी को छोड़कर अन्य इजाजत नहीं दी जा सकती है। विवाह के लिए इजाजत नहीं दी जाएगी। –गौरव महाजन, एसडीएम इंदौरा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।