लोगों को डराने, धमकाने का प्रयास कर रही सरकार : प्रतिभा #news4
July 1st, 2022 | Post by :- | 75 Views

केलंग : प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष एवं सांसद प्रतिभा सिंह ने कहा कि प्रदेश में भाजपा सरकार चंद दिनों की मेहमान है। सरकार की हड़बड़ाहट दिखा रही है कि अब सत्ता परिवर्तन होना तय है। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार अब लोगों को डराने, धमकाने का प्रयास कर रही है। उन्होंने दावा किया कि प्रदेश की जनता भाजपा को सत्ता से बाहर करने का रास्ता दिखाने का मन बना चुकी है।

लाहुल घाटी के दौरे पर पहुंचीं प्रतिभा सिंह ने कई जगह लोगों की समस्याओं को सुना। उन्होंने लोगों को आश्वासन दिया कि फारेस्ट राइट एक्ट (एफआरए) के मामले को केंद्र सरकार के समक्ष उठाया जाएगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने जनजातीय क्षेत्रों में लोगों के अधिकारों को संरक्षित करने के लिए विशेष योजनाओं का प्रविधान किया था लेकिन भाजपा सरकार की उपेक्षा के कारण आज यह क्षेत्र पिछड़ गया है। उन्होंने प्रदेश पर बढ़ते कर्ज पर चिता जताई और कहा कि भाजपा का डबल इंजन की सरकार का दावा फेल हो गया है। आज पूरा प्रदेश सूखे जैसी स्थिति झेल रहा है मगर सरकार को इसकी चिता नहीं है। दौरे के दौरान उन्हें पता चला है कि यहां स्कूलों में अध्यापक और अस्पतालों में डाक्टर नहीं हैं। लोग पेयजल व सिचाई की समस्याओं से जूझ रहे हैं जो चिताजनक है। उन्होंने आरोप लगाया कि स्थानीय विधायक इस क्षेत्र में लोगों की उम्मीदों पर खरा नहीं उतरे हैं। वह लोगों की समस्याओं पर अपनी आंखें मूंदे बैठे हैैं।

उन्होंने कहा कि सरकार कर्ज पर कर्ज ले रही है। कर्ज 70 हजार करोड़ रुपये से भी अधिक होने वाला है। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं व महिला मंडल सदस्यों से कांग्रेस के हाथ मजबूत करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सत्ता में आते ही भाजपा की जनविरोधी नीतियों व निर्णयों से लोगों को मुक्त करवाएगी। इस दौरान पूर्व विधायक रवि ठाकुर, क्षेत्र के प्रभारी कांग्रेस महासचिव भुवनेश्वर गौड़, जिला परिषद अध्यक्ष अनुराधा राणा, ग्याल सिंह ठाकुर, जिला महिला कांग्रेस अध्यक्ष शशि किरण सहित पार्टी के कई पदाधिकारी और महिला कांग्रेस, युवा कांग्रेस, सेवादल व एनएसयूआइ के कार्यकर्ता मौजूद थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।