किसानों से 1925 रुपये प्रति क्विंटल गेहूं खरीदेगी सरकार
April 11th, 2020 | Post by :- | 121 Views

देश के किसानों को कोरोना के कारण मुसीबतों का सामना कर पड़ रहा है। यह समय रबी फसलों की कटाई और सरकारी खरीद का है। सरकार ने कृषि संबंधी कार्य जारी रखने की मंजूरी दी है। ऐसे में सरकार व कृषि मंडी समिति को डर है कि रबी फसलों की खरीद के दौरान मंडियों में भीड़ उमड़ने की समस्या न हो। लिहाजा, मंडी समिति ने पुख्ता प्रबंध किए हैं। समिति चेयरमैन, सचिव ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। इस वर्ष किसानों की गेहूं 1925 रुपये प्रति क्विंटल के हिसाब से खरीदी जाएगी। फूड कार्पोरेशन ऑफ इंडिया ने किसानों की फसल के यह दाम निर्धारित किए हैं। पांवटा के लगभग 80 प्रतिशत गांव मंडियों से दूर हैं। किसानों को मंडी तक खुद और गेहूं से भरा वाहन ले जाने में चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है।

कृषि उपज एवं विपणन मंडी समिति ही किसानों को कर्फ्यू के दौरान फसल को मंडियों तक पहुंचाने के लिए कर्फ्यू पास जारी करेगी। मंडी समिति का कहना है कि फसल को मंडी तक पहुंचाने के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखना होगा। मंडी में भी इसके लिए विशेष प्रबंध होंगे। सिरमौर कृषि उपज मंडी समिति के चेयरमैन रामेश्वर शर्मा ने कहा कि गेहूं फसल की इस बार भी जल्द खरीद शुरू होगी।

इसके लिए एफसीआई की टीम अतिरिक्त स्टाफ के साथ पांवटा पहुंच चुकी है। वर्ष 2018-19 में किसानों से 874 मीट्रिक टन की खरीद हुई। इस वर्ष मंडियों में एक हजार मीट्रिक टन से अधिक गेहूं आएगी। गेहूं की खरीद के पश्चात किसानों को 1925 समर्थन मूल्य के हिसाब से ऑनलाइन भुगतान किया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।