हिमाचल में उद्यमियों को मनपसंद जमीन मुहैया करेगी सरकार
November 15th, 2019 | Post by :- | 133 Views

प्रदेश सरकार हिमाचल में उद्यमियों को उद्योग स्थापित करने के लिए मनपसंद जमीन उपलब्ध कराएगी। सरकारी जमीन के बीच में अगर निजी लोगों की जमीन आती है तो इस पेच को भी सरकार अपने स्तर पर सुलझाएगी। इन्वेस्टर मीट को लेकर उद्योगपतियों के साथ हुए एमओयू को जमीन पर उतारने के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने शुक्रवार को 25 विभागों की समीक्षा बैठक बुलाई है। यह बैठक दोपहर बाद 03:00 बजे होगी। उद्योग विभाग से लेकर अन्य विभाग जिनसे संबंधित एमओयू हुए हैं, उन विभागों के सचिवों सहित विभागाध्यक्षों को बैठक में बुलाया गया है। प्रदेश सरकार ने निवेश को जमीन पर उतारने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। नियम तैयार किए जा रहे हैं। हिमाचल में लैंड बैंक तैयार किया गया है, जो उद्योगपतियों को दिखाया जाना है।

बताया जा रहा है कि चार उद्योगपतियों ने हिमाचल में जमीन देख ली है। इसमें ऊना स्थित मुबारिकपुर के जीतपुर में लगाई जाने वाली ट्रेन के पहिये और एक्सल बनाने वाली कंपनी के अधिकारियों ने जमीन देख ली है। यह कंपनी 1100 करोड़ रुपये की लागत से प्लांट स्थापित करेगी। यह उद्योग 50 एकड़ जमीन पर स्थापित होगा।

उद्योगपति ऑनलाइन कर सकेंगे आवेदन 
उद्योगपतियों को हिमाचल में उद्योग स्थापित करने के लिए कहां जमीन चाहिए, इसके लिए ऑनलाइन भी आवेदन कर सकेंगे। तीन साल तक उद्योगपतियों को उद्योग लगाने के लिए अनापत्ति प्रमाण पत्र देने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

उद्यमियों को हिमाचल में उद्योग लगाने के लिए पसंद की जमीन दी जाएगी। इसकी प्रक्रिया शुरू कर दी है। मुबारिकपुर में ट्रेन के पहिये और एक्सल बनाने वाली कंपनी के अधिकारियों ने जमीन देख ली है। – बिक्रम ठाकुर, उद्योग मंत्री 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।