अरनी यूनिवर्सिटी में डलहौजी की निशा को ग्रेट खली ने इस काम के लिए किया सम्मानित #news4
March 27th, 2022 | Post by :- | 101 Views

डलहौजी : अरनी यूनिवर्सिटी में आयोजित ग्रेट खली की शाम देश के नाम 12वें राज्यस्तरीय सम्मान समारोह में डलहौजी निवासी निशा कटोच को माडलिंग के क्षेत्र में प्राइड आफ हिमाचल के सम्मान से नवाजा गया है। यह सम्मान उन्हें डब्ल्यूडब्ल्यूई के पूर्व रेस्लर ग्रेट खली उर्फ दिलीप सिंह ने प्रदान किया।

निशा कटोच को मिले इस सम्मान से उनके परिवार व डलहौजी शहर में खुशी का माहौल है। माडल निशा ने इससे पूर्व विभिन्न सौंदर्य प्रतियोगिताओं के अंतर्गत मिस डलहौजी का खिताब हासिल कर भी क्षेत्र का नाम रोशन किया है। वहीं राजधानी दिल्ली में आयोजित सौंदर्य प्रतियोगिता में हिमाचल का प्रतिनिधित्व कर मिस क्वीन आफ इंडिया का खिताब भी निशा ने अपने नाम कर डलहौजी ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश का मान बढ़ाया था।

निशा हिमाचली संस्कृति को बढ़ावा देने के उद्देश्य से कई पहाड़ी एलबम में अभिनय भी कर चुकी है। निशा ने प्राइड आफ हिमाचल का सम्मान मिलने पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि आज पहाड़ की बेटियां अपनी प्रतिभा के दम पर हर क्षेत्र में आगे हैं। देवभूमि में बेटियों को पूरा सहयोग और सम्मान मिलता है।

निशा ने कहा कि बेटियां भी बेटों से कम नहीं हैं। उन्हें हर कदम पर उनके परिवार का साथ मिलता है और आज जहां भी जाती हैं, उनकी पहचान डलहौजी और हिमाचल की बेटी के रूप में होती है। उन्हें हिमाचली होने का गर्व है।

किसानों की आर्थिकी को मजबूत बनाने के लिए उत्पादों की हुई लांचिंग

राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) एवं सेवा संस्था की ओर से चंबा जिला के जनजातीय क्षेत्र में रहने वाले किसानों की आर्थिकी को सुदृढ़ करने के लिए किसान उत्पादक संगठनों का गठन किया गया है। किसानों को अपने उत्पाद बाजार में अच्छे दाम पर बेचने के लिए मार्केट लिंकेज प्रदान करने के साथ-साथ जैविक उत्पादों का ब्रांडिंग और प्रमोशन भी किया जा रहा है।

इसी के अंतर्गत नाबार्ड के प्रभारी अधिकारी डा. सुधांशु मिश्रा की ओर से सुनारा के बस्सु वैली फल एवं सब्जी उत्पादक सहकारी समिति के उत्पादों की लाचिंगकी गई। उन्होंने कहा कि इस प्रकार से उत्पादों की पैकेजिंग एवं ब्रांडिंग कर एफपीओ के व्यापार में विस्तार होने के साथ किसानों की आजीविका मजबूत होगी। साथ ही चंबा जिला में दूध उत्पादन के क्षेत्र में कार्य कर रहे प्रगति दुग्ध उत्पादक सहकारी समिति की महिला सदस्यों को कामधेनु मिल्क प्लांट बिलासपुर में टेक्नोलाजी पर प्रशिक्षण देने के लिए (सीएटी), एक्सपोजर विजिट के लिए नाबार्ड के प्रभारी अधिकारी द्वारा हरी झंडी दिखा कर रवाना किया गया।

उन्होंने कहा कि किसानों की आर्थिकी को मजबूत करने के उद्देश्य से लगातार कार्य किया जा रहा है। किसानों के संगठन बनाए जा रहे हैं तथा उन्हें प्रशिक्षण लेने के लिए भी समय-समय पर भेजा जा रहा है। आज किसान पहले से कहीं अधिक जागरूक हो चुके हैं। कई किसान नई तकनीकों से खेती कर अच्छी कमाई कर रहे हैं। जबकि कई किसानों को प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है ताकि कोई भी किसान ऐसा न रहे, जिसे नई तकनीकों के बारे में जानकारी न हो।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।