कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौतों का विश्लेषण कर रहा स्वास्थ्य विभाग #news4
November 22nd, 2021 | Post by :- | 83 Views

धर्मशाला : जिला कांगड़ा में पिछले कुछ दिनों में कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत मामलों को लेकर स्वास्थ्य विभाग भी सतर्क हो गया है। कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौतों को लेकर विभाग द्वारा विश्लेषण किया जा रहा है। विभाग द्वारा संबंधित अस्पतालों से मरीजों की पूरी जानकारी ली जा रही है। स्वास्थ्य विभाग ने पहले ही बीमारी की गंभीरता को देखते हुए हुए लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए ग्रामीण स्तर पर कोविड वेक्सीनेशन को तेज किया है। इसके चलते जिला भर की सभी पंचायतों में सप्ताह में 1 दिन वैक्सीनेशन कैंप लगाया जा रहा है। वहीं, आशा व आंगनबाड़ी वर्कर भी सबंधित क्षेत्रों में वैक्सीन न लेने वाले अथवा दूसरी डोज से कतरा रहे लोगों को जागरूक कर उनका टीकाकरण करवाया जा रहा है। विदेश जाने वाले नागरिकों के लिए स्वास्थ्य विभाग ने कोविड वेक्सीन की पहली डोज के बाद दूसरी डोज 28 दिनों बाद लगाने की सुविधा प्रदान की है। जोनल अस्पताल धर्मशाला में यह सुविधा प्रदान की जा रही है।

गौरतलब है कि पिछले 10 दिनों में जिला में कोविड-19 वायरस से ग्रस्त 19 मरीजों की मौत हो चुकी है। इनमें से 4 मरीजों की मौत होम आइसोलेशन में जबकि 15 की अस्पताल में हुई है। कोविड-19 की वजह से मरीजों की मौत के बढ़ते मामलों का विश्लेषण स्वास्थ्य विभाग द्वारा संबंधित अस्पतालों से जानकारी के आधार पर किया जा रहा है। विभाग का कहना है कि जिन मरीजों की मौत हुई है, उनकी आयु अधिक थी और अन्य बीमारियों से भी मरीज पीड़ित थे। ऐसे में कोरोना महामारी के बीच सर्दी, खांसी, बुखार के मामलों में भी बढ़ोतरी हो रही है तथा इसे हल्के में नहीं लेना चाहिए। उधर, सी.एम.ओ. कांगड़ा डॉ. गुरदर्शन गुप्ता ने कहा कि जिला में कोरोना वायरस से मरीजों की मौत के बढ़ते मामलों का विश्लेषण किया जा रहा है। महामारी के दौर में सर्दी, खांसी व बुखार के लक्षणों को कोई भी नागरिक हल्के में न लें। किसी व्यक्ति को इस तरह की लक्षण हों तो वह खुद को आइसोलेट कर लें अथवा कोविड-19 टेस्ट करवाएं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।