स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की दोटूक, विदेश से लौटा हर व्‍यक्‍ित संदिग्ध; संपर्क में आए लोग भी करवाएं जांच
March 21st, 2020 | Post by :- | 166 Views

दुनिया के किसी भी देश से 28 दिन में कांगड़ा जिला पहुंचे लोग स्वास्थ्य विभाग की नजर में संदिग्ध हैं। ऐसे सभी नागरिकों को स्वेच्छा से नजदीकी स्वास्थ्य केंद्रों में जांच करवाना जरूरी है। इसके साथ कोरोना मरीजों के संपर्क में आए नागरिकों की स्वास्थ्य जांच भी जरूरी है ताकि कोरोना वायरस से बचाव के लिए आवश्यक कदम उठाए जा सकें।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. गुरदर्शन गुप्ता ने धर्मशाला में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि कोरोना वायरस को लेकर आइसोलेशन वार्ड भी तैयार है तथा विदेशों से आए नागरिकों को भी कम से कम 14 दिन के लिए अलग रहने के निर्देश दिए गए हैं। विदेशों की यात्रा से लौटे नागरिकों के बारे में किसी के पास भी जानकारी हो तो निशुल्क टोल फ्री नंबर 104 तथा 1077 पर सूचना दे सकते हैं ताकि स्वास्थ्य विभाग नियमानुसार आवश्यक कार्रवाई कर सके।

ये रखें एतिहात

डॉ. गुरदर्शन गुप्ता ने कहा कि अस्पतालों में भी भीड़ कम कम से हो, इसके लिए भी हिदायतें जारी की गई हैं। कोरोना वायरस से घबराने की आवश्यकता नहीं है, छींकते या खांसते वक्त रूमाल, टिशू पेपर या कोहनी का प्रयोग करें, बार-बार साबुन से कम से कम 20 सेकेंड तक हाथ धोएं, यदि साबुन न मिले तो सैनिटाइजर से हाथ धोएं, सामाजिक दूरी बनाए रखें, केवल आवश्यक कार्यों के लिए ही घर से बाहर निकलें तथा भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से परहेज किया जाए। उन्होंने कहा खांसी, बुखार या सांस लेने में परेशानी होने पर नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में संपर्क करें तथा अपने घर, समुदाय तथा धार्मिक स्थलों में ऐसे आयोजन न करें जिसमें चार से ज्यादा लोग एकत्रित हों।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।