धार्मिक पर्यटन के साथ खेल पर्यटन के लिए भी विश्व प्रसिद्ध बने हिमाचलः अनुराग ठाकुर
November 2nd, 2019 | Post by :- | 193 Views
धार्मिक पर्यटन के साथ खेल पर्यटन के लिए भी विश्व प्रसिद्ध बने हिमाचलः अनुराग ठाकुर
घेड़ मानगड़ विद्यालय के नए भवन का किया उद्घाटन
देहरा, धार्मिक पर्यटन और एडवेंचर पर्यटन के लिए विश्व प्रसिद्ध हिमाचल प्रदेश खेल पर्यटन में भी देश का अग्रणी राज्य बन सकता है। डलियारा महाविद्यालय में आयोजित हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय इंटर कालेज फुटबॉल टूर्नामेंट के शुभारंभ के अवसर पर केंद्रीय वित एवं कॉर्पोरेट कार्य राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर बोल रहे थे। उन्होंने टूर्नामेंट में भाग लेने आई 26 टीमों के खिलाड़ियों एवं  उपस्थित वयक्तियों को संबोधित करते हुए कहा कि एक खेल मैदान ने धर्मशाला की अर्थव्यवस्था को बदलने और विश्व के मानचित्र में उसका स्थान बनाने का काम किया है। उसी प्रकार प्रदेश में अधिक से अधिक खेल मैदान बनाकर और खेल सुविधाएं देकर हम अपने प्रदेश की और खिलाड़ियों की दशा और दिशा बदल सकते हैं।
इससे पूर्व 58 लाख की लागत से बीएसएनएल द्वारा निर्मित घेड़ मानघड़ वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला के नए भवन का उद्घाटन उन्होंने किया। अनुराग ने कहा कि धार्मिक पर्यटन, एडवेंचर पर्यटन और खेल पर्यटन की दिशा में यदि हम प्रदेश को आगे बढ़ाएंगे तो लाखों लोगों को रोजगार और स्वरोजगार इससे मिल सकता है। उन्होंने सरकार, संस्थाओं, स्वयंसेवी संगठनों, खेलसंघ को आग्रह किया कि वह मिलकर यह बड़ा बदलाव प्रदेश में लेकर आएं।
उन्होंने खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा देखा गया फिट इंडिया के सपने को आज की युवा पीढ़ी को पूरा करना है। नशे जैसी विभिन्न कूरीतियों से दूर रह कर जिन युवाओं ने खेलों को चुना है, वह समाज के लिए रोल मॉडल हैं। साथ ही देश में बच्चों में कुपोशन की समस्या, युवाओं में नशे की समस्या और वृद्धों की स्वास्थ्य की समस्या का मूल कारण हमारी बदलती जीवनचर्या और व्यायाम- खेलों का न होना है। उन्होंने खिलाड़ियों से प्रदेश में स्वास्थ्य और फिटनैस के अम्बैसडर के रूप में आगे बढ़ने का आह्वान किया।
अनुराग ने कहा कि खेलो इंडिया के माध्यम से खेलों को आगे बढ़ाने का एक सफल प्रयास केंद्र सरकार द्वारा किया गया है और हिट इंडिया के माध्यम से देश को स्वास्थ बनाने के लक्ष्य को भी सबके सहयोग से पूरा करेंगे। उन्होंने कहा कि आज जिन भी व्यसनों या कूरीतियों से युवा पीड़ित है, उनका उत्तर खेल ही है। खेल को अपने जीवन का अहम हिस्सा बनाकर सब प्रकार की नकारात्मताओं को हम दूर सकते हैं।
महाविद्यालय की मांगों पर बोलते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा कि 40 लाख रूपये की लागत से कॉलेज के मैदान के निर्माण के लिए जो राशि स्वीकृत की गई है, उसे सीमित समय के अन्दर पूर्ण करने के निर्देश लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को दे दिए गए हैं। साथ ही कॉलेज के भवन के निर्माण का कार्य भी टेंडर करके जल्द शुरु किया जाए इसके निर्देश भी दे दिए गए हैं। अनुराग ने कहा कि प्रध्यापकों के लिए आवासीय भवन की मांग को भी शिक्षा मंत्री के सामने रखेंगे तांकि उसका काम भी शुरु कराने की दिशा में आगे बड़ें।
खेलों और खिलाड़ियों के विकास के महत्व पर प्रकाश डालते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा कि खेलों को लेकर हिमाचल प्रदेश में दो वर्ष पूर्व उनके द्वारा रूरल ओलंपिक्स के नाम से टूर्नामेंट आयोजित किया गया जिसमें 52000 से ज्यादा खिलाड़ियों ने भाग लिया। इसके अलावा पिछले वर्ष अपने संसदीय क्षेत्र हमीरपुर में उनके द्वारा आयोजित खेल महाकुंभ में 5 खेलों के लिए 750 से ज्यादा पंचायतों से आए 42700 खिलाड़ीयों ने भाग लिया जो कि देश का सबसे बड़ा टूर्नामेंट हुआ।
अनुराग ने कहा कि खिलाड़ियों को मंच और सुविधाएं मिले तो वह कभी पिछे नहीं रहते। पूरे प्रदेश भर में ऐसे आयोजन कराने चाहिए। सरकार के माध्यम से भी ज्यादा से ज्यादा खेल मैदानों की व्यवस्था करनी चाहिए। पंचायत स्तर से खेल मैदानों का निर्माण करना चाहिए। हर विधानसभा क्षेत्र में इन्डोर मैदानों की व्यवस्था की जानी चाहिए। इससे खिलाड़ियों को आगे बड़ने का अवसर मिलेगा।
अनुराग ने कहा कि धर्मशाला में क्रिकेट स्टेडियम बनाने से न केवल खिलाड़ियों और खेलों का विकास हुआ बल्कि पर्यटन को भी बढ़ावा मिला। इसी प्रकार खेल मैदान और खोलों को बढ़ावा देकर हम पूरे हिमाचल की दिशा बदल सकते हैं। उन्होंने कहा कि इन्वेस्टर मीट से हजारों करोड़ों का निवेश प्रदेश में आएगा और हजारों युवाओं को रोजगार मिलने की आशा है। आने वाले उद्योगों से बात करेंगे कि खिलाड़ियों की सुविधा और खेल को बढ़ावा देने के लिए इस क्षेत्र में भी निवेश हो, कुछ और खेल मैदान बनाने का आग्रह भी वह करेंगे।
भारत की बड़ती ताकत को लेकर उन्होंने कहा कि भारत में ज्यादा में ज्यादा निवेश आए इसके लिए कार्परेट टैक्स 30 प्रतिशत से घटाकर 15 प्रतिशत किया गया है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन से 2024 तक 5 ट्रीलियन की अर्थव्यवस्था के साथ दुनिया के पहले तीन देशों में भारत को खड़ा करने का संकल्प सबने लिया है।
इस अवसर पर प्रदेश सरकार में उद्योग मंत्री बिक्रम ठाकुर ने उपस्थित खिलाड़ियों को खेल की भावना से ही जीवन जीने की सलह दी और साथ ही प्रदेश सरकार द्वारा खेलों के विकास के लिए किए जा रहे प्रयासों के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जयराम ठाकुर सरकार प्रदेश में खेलों का मजबूत ढांचा खड़ा करने के लिए संकल्पबद्ध है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार खिलाड़ियों की सुविधा के लिए विश्वस्तरीय व्यवस्थाएं प्रदेश में कर रही है और प्रदेश के खिलाड़ी भी विभिन्न मंचों पर प्रदेश का नाम रोशन कर सरकार को खेलों के लिए और कार्य करने में प्रोत्साहित कर रहे हैं।
इससे पूर्व घेड़ मानघड़ वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला के नए भवन का उद्घाटन करते हुए केंद्रीय वित एवं कॉर्पोरेट कार्य राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने स्कूल के विद्यार्थीयों को स्वच्छता अभियान से जुड़ने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि पूरा देश इस वर्ष महात्मा गांधी की 150वीं जयंती देश मना रहा है और स्वच्छता अभियान से जुड़ना उनको सच्ची श्रद्धांजलि होगी। उन्होंने स्कूल प्रशासन को निर्देश दिए कि स्कूल विद्यार्थियों के कौशल विकास की और ध्यान देैं।
उन्होंने कहा कि स्कूलों में इको कल्ब बनें, स्वच्छता के संकलप के साथ पलास्टिक मुक्त भारत की दिशा में आगे बढ़ने का कार्य स्कूल प्रशासन विद्यार्थियों के साथ करे। विद्यालय की मांगों पर बोलते हुए उनहोंने कहा कि मुख्य मार्ग से स्कूल तक सड़क के निर्माण के लिए पैसा देकर इसका निर्माण जल्द कराएंगे। साथ ही सुरक्षा दिवार और अन्य सुविधाओं के लिए प्रदेश सरकार और शिक्षा मंत्री से बात कर इस दिशा में भी कार्य करेंगे।
उन्होंने विद्यार्थियों से आह्वान किया कि मोबाईल छोड़ें और पुस्तकों को पकड़े साथ ही अभिभावकों से विद्यार्थियों को फोन न देने की गुहार लगाई। इस अवसर पर अनुराग ठाकुर ने कहा कि अड़चनों के बाद भी केंद्रीय विश्वविद्यालय को देहरा में लाया और केंद्रीय विश्वविद्यालय की डीपीआर तैयार कर दी गई है और आगे का काम भी जल्द शुरु हो जाएगा।
इस अवसर पर पूर्व विधायक रविंद्र रवि, जिला अध्यक्ष नरेश चौहान, महामंत्री अरविंद धीमान, मंडलाध्यक्ष निर्मल सिंह, जगदीप ढडवाल, सर्वदर्शन, नगर परिषद् अध्यक्ष सुनिता कुमारी, श्याम दुलारी, पंचायत प्रधान कमलेश कुमारी, तृप्ता, जिला सचिव अमित राणा, प्राचार्य मानगड़ विद्यालय अमिता सूद, एसडीएम देहरा धनबीर ठाकुर, विभिन्न विभागों से आए अधिकारी व कर्मचारी, स्कूल के विद्यार्थी व कर्मचारी, विद्यार्थियों के अभिभावक व स्थानीय लोग उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।