हिमाचल उपचुनाव: कांग्रेस ने राजगढ़ बाजार में आक्रोश रैली निकाल किया शक्ति प्रदर्शन
October 17th, 2019 | Post by :- | 173 Views

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के रोड शो का कांग्रेस पार्टी ने करारा जवाब देने के लिए गुरुवार को पच्छाद विधानसभा क्षेत्र के राजगढ़ में आक्रोश रैली निकाली। पूरे बाजार में जोरदार नारेबाजी के साथ निकाली गई इस रैली के माध्यम से कांग्रेस ने अपनी शक्ति का भी प्रदर्शन किया। भाजपा पर सत्ता का दुरुपयोग और आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए कांग्रेसियों ने नारेबाजी कर यहां की सर्द फिजाओं में सियासी पारा चढ़ा दिया है।

कांग्रेसी नारे लगाते हुए रैली स्थल तक पहुंचे। रैली में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप राठौर, पूर्व मंत्री कौल सिंह, हर्षवर्धन चौहान, कर्नल धनीराम शांडिल, विक्रमादित्य सिंह और प्रत्याशी जीआर मुसाफिर ने भाजपा पर जमकर निशाना साधा। कुलदीप राठौर ने कहा कि भाजपा ने ढाई साल की अवधि में कोई विकास नहीं किया। उपचुनाव में सरकारी मशीनरी का जमकर इस्तेमाल हो रहा है।

पानी की पाइपें बांटी जा रही हैं। बुलडोजर और जेसीबी लगाकर सड़कें बनाई जा रही हैं। यहां तक की युवाओं को नौकरी देने के भी सब्जबाग दिखाए जा रहे हैं। चुनाव के बाद ये सब गायब हो जाएगा। उन्होंने विस अध्यक्ष राजीव बिंदल पर निशाना साधते हुए कहा की कौल सिंह ठाकुर और जीआर मुसाफिर भी स्पीकर रहे हैं। अपने कार्यकाल में उन्होंने कभी कांग्रेस पार्टी की बैठकों में भाग नहीं लिया।

संविधानिक पद की गरिमा को रखते हुए कांग्रेसी नेताओं ने अपनी भूमिका तटस्थ रखी। लेकिन, वर्तमान अध्यक्ष राजीव बिंदल अपनी भूमिका तटस्थ नहीं रख पा रहे हैं। वे सरेआम भाजपा के प्रचार में लगे हुए हैं। उन्होंने कहा की भाजपा ने हाटी के मुद्दे पर यहां के लोगों को गुमराह किया हैं। राजनाथ सिंह और जनजातीय मंत्री ने हाटी समुदाय को जनजातीय घोषित करने का वादा किया था। लेकिन, चुनाव बितने के बाद में सब भुला दिया।

भाजपा में नहीं महिलाओं का सम्मान 
कुलदीप राठौर ने कहा कि भाजपा में महिलाओं को सम्मान नहीं मिल रहा हैं। कांग्रेस की वरिष्ठ नेता सोनिया के खिलाफ हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की टिप्पणी बेहद शर्मनाक हैं। भाजपा से बागी हुई निर्दलीय प्रत्याशी दयाल प्यारी के साथ भी ऐसा ही हुआ है। मुख्यमंत्री के समक्ष ही सभा में मंच पर पार्टी के ही एक नेता ने उन्हें धक्का दे दिया। ये शर्मनाक है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।