हिमाचल: झाड़माजरी और हिल व्यू सोसायटी सील, आवाजाही पर लगाई रोक
April 4th, 2020 | Post by :- | 188 Views
कोविड-19 का मामला सामने आने के बाद प्रशासन ने झाड़माजरी को सील कर दिया है। अगले आदेशों तक क्षेत्र में किसी को भी आने-जाने होने की इजाजत नहीं है। प्रशासन ने यहां तैनात सरकारी कर्मचारियों की आवाजाही पर भी रोक लगा दी है। सिर्फ फार्मा उद्योगों को ही अपने कर्मचारियों को वाहनों में लाने और ले जाने की इजाजत होगी। यह व्यवस्था सुबह-शाम छह बजे से आठ और शाम तक रहेगी। किसी भी कर्मचारी को पैदल आवाजाही नहीं करने दी जाएगी। प्रशासन ने इलाके में धारा-144 लागू कर दी है। उपायुक्त केसी चमन ने बताया कि झाड़माजरी में हिल व्यू सोसायटी को भी सील कर दिया गया है। यहां किसी भी वाहन के आने या जाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। प्रतिबंध के दायरे में बैंक और दैनिक आवश्यकता की दुकानें भी शामिल हैं।
उद्योग के अंदर बने हैं दो विश्रामगृह
हेलमेट बनाने वाली नामी कंपनी ने उद्योग के अंदर दो विश्राम गृह बना रखे हैं। एक विश्रामगृह कंपनी मालिकों या अधिकारियों के लिए बनाया है। दूसरा विश्रामगृह कामगारों के लिए है। दिल्ली से लौटे चार परिवार के सात लोग मालिकों के लिए बने विश्रामगृह में रह रहे थे। 15 मार्च से इनकी दिनचर्या बिल्कुल ठीक थी। सभी लोग परिसर में बने मंदिर तक चहलकदमी करते और शाम को टहलते थे। 24 मार्च के बाद कंपनी निदेशक की पत्नी की तबीयत खराब होना शुरू हुई। उन्हें बुखार आने लगा। उन्होंने घर में ही रहना शुरू कर दिया। 30 मार्च तक बुखार से जूझती रहीं। उनका हाल जानने को कंपनी के संस्थापक निदेशक की पत्नी भी आती रहीं। 30 मार्च को संस्थापक निदेशक की पत्नी बीमार हुईं और निजी अस्पताल से दवा लेकर घर आ गईं। इसके बाद निदेशक की पत्नी भी दवा लेने जब निजी अस्पताल पहुंचीं तो चिकित्सक को महिला में कोरोना के लक्षण नजर आए। इस पर महिला को पीजीआई रेफर कर दिया, जहां मौत हो गई।

70 से अधिक आयु के हैं सभी लोग

कंपनी के संस्थापक निदेशक, निदेशक और अन्य परिवारों के सदस्य 70 से अधिक आयु वर्ग के हैं। संस्थापक निदेशक और उनकी पत्नी में कोरोना के शुरूआती लक्षण मिले हैं। दोनों निजी अस्पताल में बुखार के बाद उपचार करवाने पहुंचे थे।

जिस महिला की मौत हुई है, वह काफी दिनों से बुखार से पीड़ित थीं। घर में ही उपचार करवा रही थीं। हालत खराब होने पर निजी अस्पताल लाया गया। स्वास्थ्य विभाग ने परिवार के सभी सदस्यों की निगरानी शुरू कर दी है। इनके सैंपल लेकर सदस्यों को क्वारंटीन किया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।