हिमाचल: नशे के ओवरडोज से थम गई युवक की सांस, दोस्तों ने खड्ड में दबा दिया- केस दर्ज #news4
May 12th, 2022 | Post by :- | 314 Views

मंडी। हिमाचल प्रदेश के युवाओं के बीच नशे का जहर इस कदर फ़ैल चुका है कि अब इसके चलते मौतें भी होने लगी हैं। ताजा मामला सूबे के मंडी जिले से रिपोर्ट किया गया है, जहां नशे को ओवरडोज के चलते एक 19 साल के लड़के को अपनी जान से हाथ धोना पड़ गया।

जान गंवाने वाले युवक का नाम धीरज ठाकुर था। पुलिस ने मृतक के शव को नलयाना गांव के पास बकर खड्ड से बरामद किया गया है। जहां उसके दोस्तों ने मौत के बाद उसे दफना दिया था। मृतक युवक जिले के सरकाघाट क्षेत्र के तहत आते थडू गांव का रहने वाला था।

समीरपुर से आईटीआई कर रहा था

अब पुलिस ने इस सम्बन्ध में एक युवक के खिलाफ ह्त्या का मामला दर्ज कर लिया है। बताया गया कि बदलेव सिंह का बेटा धीरज समीरपुर से आईटीआई कर रहा था। मृतक के पिता ने पुलिस को दी गई शिकायत में बताया कि बेटे को नशे की लत लग चुकी थी। बीती 26 अप्रैल को धीरज घर से तो आईटीआई के लिए निकला लेकिन आईटीआई न जाकर अपने दोस्तों के साथ चला गया।

पूछताछ में उगल दिया सच

इन दोस्तों में पारूल पुत्र रविंद्र कुमार निवासी झड़ियार, विक्रांत निवासी धगवानी और प्रिंस निवासी जाहू शामिल हैं। देर शाम तक बेटा घर नहीं पहुंचा तो चिंतित पिता ने बेटे के मोबाइल पर फोन किया। धीरज ने अपने पिता को बताया कि वो अपने दोस्त पारूल के घर चला गया है और वहीं पर रहेगा। इसके बाद धीरज का फोन स्विच ऑफ हो गया।

उन्होंने आगे बताया कि इसके बाद धीरज फिर कभी घर लौटकर नहीं आया। अपने स्तर पर बेटे की तलाश करने के बाद थके हारे पिता ने 30 अप्रैल को सरकाघाट पुलिस थाना में बेटे की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई और उसके दोस्तों पर शक जाहिर किया। पुलिस ने मृतक धीरज के दोस्त पारुल की गतिविधियों पर नजर रखना शुरू किया और शक के आधार पर उसे पूछताछ के लिए तलब किया। पुलिस ने जब सख्ती से पूछताछ की तो पारूल ने सच उगल दिया।

सभी दोस्तों ने इंजेक्शन से नशे की डोज ली थी

पारूल ने पुलिस को बताया कि 26 अप्रैल को इन सभी दोस्तों ने इंजेक्शन से नशे की डोज ली थी। धीरज ने ज्यादा डोज ले ली जिसके कारण उसकी मौत हो गई। अपने सामने धीरज को मृत अवस्था में देखकर तीनों युवक बौखला गए और उसकी लाश को बोरे में बांधकर बकर खड्ड किनारे ले गए।

वहां पर गड्ढा खोदा और लाश को दफना कर वापिस अपने घरों को लौट गए। पुलिस ने पारूल की निशानदेही के आधार पर जब उस स्थान को खोदा तो वहां से धीरज का शव बरामद कर लिया है। शव गल-सड़ गया है और उसे पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल कालेज नेरचौक भेज दिया गया है।

डीएसपी सरकाघाट लितक राज शांडिल्य ने मामले की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि पारुल के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर पता चल पाएगा कि धीरज की मौत किन कारणों से हुई है। दो अन्य दोस्तों से भी पूछताछ जारी है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।