हिमाचल विस चुनाव: प्रियंका बोलीं- पहली कैबिनेट में ओपीएस, 1 लाख पदों पर नियुक्ति का होगा फैसला #news4
October 31st, 2022 | Post by :- | 79 Views

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा है कि सरदार वल्लभ भाई पटेल और इंदिरा गांधी ने देश को जोड़ने का काम किया। इंदिरा का हिमाचल से अध्यात्म, प्रेम और स्नेह का रिश्ता था। गांव-गांव में मेरी दादी की बातें होती हैं। उनके गुजरने के बाद देश की राजनीति बदल गई है। आज की राजनीति में पैसा, स्वार्थ का बोलबाला है। प्रियंका ने सोमवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के गृह जिला मंडी से चुनावी हुंकार भरी।

बाबा भूतनाथ मंदिर में माथा टेकने के बाद उन्हाेंने माथे पर चंदन का लेप लगाया। उसके बाद ऐतिहासिक पड्डल मैदान में परिवर्तन प्रतिज्ञा महारैली को संबोधित किया। प्रदेश में भाजपा के रिवाज बदलने के नारे पर पलटवार करते हुए उन्होंने जयराम सरकार को खूब घेरा। कहा कि स्वार्थ की राजनीति के लिए परंपरा बदलने को कहा जा रहा है। हिमाचल में पांच साल बाद सरकार बदलने की परंपरा अच्छी है। आप परंपरा को मत बदलिए। इस परंपरा से नेता सीखता है। उसे समझ में आता है कि उसके पास पांच साल हैं। अगर कोई काम नहीं किया तो जनता खदेड़ देगी।

उन्होंने कहा कि हिमाचल सांस्कृतिक परंपराओं का प्रदेश है। मंडी की शिवरात्रि, कुल्लू दशहरा और नाटी लोकनृत्य के अलावा यहां देश के प्रति समर्पण की परंपरा है। सेना में यहां का युवा देश की सीमाओं की रखवाली के लिए जान न्योछावर करता है। राष्ट्र उन्नति के लिए दिन-रात लाखों कर्मचारी काम करते हैं। यहां की परंपरा पढ़ लिखकर आगे बढ़ने की है। इस दौरान हिमाचल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रतिभा सिंह ने प्रियंका गांधी को देवरथ भी भेंट किया।

मंडी के भ्रष्ट वजीर से की भाजपा नेताओं की तुलना
प्रियंका गांधी ने अपने संबोधन में मंडी रियासत में भ्रष्ट वजीर नरोत्तम का जिक्र किया। भाजपा नेताओं की उससे तुलना कर तंज कसा कि 1862 में भ्रष्ट वजीर नरोत्तम थे। वह गलत तरीके से लगान वसूलते और अंत में उन्हें जनता ने उखाड़ फेंका। आज की राजनीति भी वैसी ही है। ऐसे में सोच समझ कर निर्णय लें। उन्होंने कहा कि यहां के मुख्यमंत्री को ही ले लीजिए। अपने विधानसभा क्षेत्र का ही विकास किया। सड़कों का बुरा हाल है। बागवानों की फूड प्रोसेसिंग यूनिट, टमाटर और सेब के उचित मूल्यों की दरकार है।

पांच साल में पांच लाख रोजगार देंगे
सोलन के बाद मंडी में भी प्रियंका ने दोहराया कि हिमाचल प्रदेश में ओपीएस (ओल्ड पेंशन स्कीम) देंगे। सरकारी विभागों में रिक्त पदों को भरा जाएगा। पहली कैबिनेट में ओपीएस व एक लाख पदों पर नियुक्ति किया जाना तय होगा। पांच साल में पांच लाख रोजगार देंगे। 680 करोड़ का स्टार्ट अप फंड और जीरो फीसदी ब्याज पर ऋण देंगे। भाजपा सरकार के कार्यकाल में सरकारी विभागों में 63,000 पद खाली हैं, लेकिन किसी को रोजगार नहीं मिला। अग्निवीर योजना युवाओं से खिलवाड़ है। यहां हर भर्ती में घोटाला किया गया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।