मेरी मुख्यमंत्री की रेस से तौबा, मुझे तो पहले विधायक बनना है : मुकेश अग्निहोत्री #news4
May 7th, 2022 | Post by :- | 64 Views

सोलन : नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने मुख्यमंत्री की रेस से तौबा कर ली है। उन्होंने कहा कि पहले उन्हें विधायक बनना है। ट्रैंड भी कुछ ऐसा ही चला हुआ है कि जो मुख्यमंत्री की रेस में आया, वह समझो गया। पंजाब इसका सबसे बड़ा उदाहरण है। पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, नवजोत सिंह सिद्दू, पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल, पूर्व मुख्यमंत्री अमरेन्द्र सिंह, पूर्व उप मुख्यमंत्री सुखबीर बादल, उतराखंड में हरीश रावत, मुख्यमंत्री पुष्कर धामी, पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी व हिमाचल में पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल मुख्यमंत्री का चेहरा होने के बावजूद चुनाव हार गए। सोलन में पत्रकार वार्ता में उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री बनने के लिए पहले विधायक बनना जरूरी है। इसलिए पहले वह विधायक बनना चाह रहे हैं। वह पिछले 2 दशकों से लगातार चुनाव जीत रहे हैं। मुझे इस दौड़ में मत फंसाओ। मुख्यमंत्री की लडा़ई बहुत दूर की है। उनकी लड़ाई केवल प्रदेश में कांग्रेस सरकार बनाने की है। इसी मकसद से वह आगे बढ़ रहे हैं। पार्टी हाईकमान ने साढ़े 4 वर्ष विधायक दल के नेता के रूप में मेरे काम को सराहा है।

कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्षों की चिंता न करें जयराम 
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को कांग्रेस में बनाए गए 4 कार्यकारी अध्यक्षों की ङ्क्षचता नहीं करनी चाहिए क्योंकि 4 महीने बाद उन्होंने चले जाना है। अग्निहोत्री ने कहा कि उस सरकार से विकास की उम्मीद नहीं कर सकते, जिसका मुख्यमंत्री ही अपना ड्रीम प्रोजैक्ट शुरू नहीं कर सके। मुख्यमंत्री ने मंडी में हवाई पट्टी बनाने की योजना बनाई थी। इस योजना का निर्माण कार्य तो दूर अभी तक भूमि का अधिग्रहण तक नहीं हुआ है। शिलान्यास भी नहीं हुआ है। मुख्यमंत्री ने कहा था कि ऊना से हमीरपुर तक रेल लाइन बनाएंगे। इस योजना का शिलान्यास तो दूर अभी तक बजट का प्रावधान भी नहीं किया गया है। अब कह रहे हैं कि बंगाणा में पहला स्टेशन बनाएंगे। भाजपा शेख चिल्लियों की सरकार है।

कांग्रेस छोड़ आप में जा रहे नेता पछताएंगे
अग्निहोत्री ने आप पर टिप्पणी करते हुए कि दिल्ली से नेता पर्यटक के रूप में प्रदेश में आ रहे हैं। 4 महीने तक इस तरह से आना-जाना चला रहेगा। आप का हिमाचल में कोई आधार नहीं है। कांग्रेस ही हिमाचल में सरकार बनाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस छोड़कर आप में जा रहे नेता बाद में पछताएंगे। कांग्रेस को इससे कोई फर्क नहीं पड़ रहा है। कांग्रेस में किसे चुनाव लड़ाना है, वह हमें पता है और वे सभी पार्टी में हैं। पार्टी छोड़कर वे लोग गए हैं, जिन्हें लग रहा था कि उन्हें टिकट नहीं मिलेगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।