एसडीएम ने दुकानदारों को दी हिदायत, मास्क नहीं लगाया तो कटेगा चालान #news4
November 18th, 2021 | Post by :- | 423 Views

बिलासपुर : मंदिर न्यास के अध्यक्ष एसडीएम राजकुमार ठाकुर ने किया श्री नैना देवी शहर का औचक निरीक्षण किया। दुकानदारों रेहड़ी फड़ी वालों और श्रद्धालुओं के मास्क के चेक कर एसडीएम ने स्पष्ट किया कि कोविड-19 महामारी के नियमों के उल्लंघन बर्दाश्त नहीं की जाएगी। विश्व विख्यात शक्तिपीठ श्री नैना देवी में मंदिर न्यास के अध्यक्ष एसडीएम राजकुमार ठाकुर अपने दलबल सहित जहां पर शहर का निरीक्षण किया, वहीं पर दुकानदारों और मंदिर से आ रहे श्रद्धालुओं व रेहड़ी फड़ी वालों के मास्क चेक किए और प्रॉपर तरीके से मास्क लगाने के निर्देश दिए। उनके साथ मंदिर अधिकारी जगदीश शर्मा, मंदिर न्यास के सहायक अभियंता प्रेम शर्मा, मंदिर यूनियन के प्रधान महेंद्र सिंह ठाकुर और मंदिर के सुरक्षा होमगार्ड इंचार्ज परमजीत भी मौजूद थे।

एसडीएम जब अपना कार्यभार संभालने के बाद पहली बार माता के दर्शन के लिए आए थे, उसमें भी दुकानदारों को हिदायत दी थी कि वह मास्क लगाकर रखें। कोरोना महामारी के नियमों का पालन करें। उन्होंने कहा था कि श्रद्धालुओं को भी मास्क लगाना सुनिश्चित करें। लेकिन जब वह माता के दरबार में पहुंचे तो उन्होंने सबसे पहले दुकानदारों का औचक निरीक्षण किया और हर दुकानदार को यह निर्देश दिए कि वह मास्क लगाकर रखें नहीं तो अगली बार उसका चालान किया जाएगा। एसडीएम राजकुमार ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि उन्होंने आज शहर का औचक निरीक्षण किया है और दुकानदार को मास्क प्रॉपर तरीके से लगाने की हिदायत दी है। जबकि श्रद्धालुओं से भी अपील की कि वह भी मास्क का सही ढंग से उपयोग करें। उन्होंने कहा कि ज्यादातर श्रद्धालु या दुकानदार मास्क गले में डाले रखते हैं, प्रॉपर तरीके से लगाते नहीं है। उन्होंने कहा कि मास्क प्रॉपर तरीके से लगाए और कोविड-19 नियमों का पालन करें। उन्होंने अपने मंदिर न्यास के कर्मचारियों और सुरक्षाकर्मियों हिदायत दी है कि वह स्वयं भी मास्क का  प्रयोग करें और बाकियों को भी निर्देश दें कि वह मास्क का प्रयोग जरूर करें नहीं तो सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।