15 दिन में व्यवस्था सही नहीं हुई तो होगा उग्र आंदोलन_- सागर
July 25th, 2019 | Post by :- | 471 Views

15 दिन में व्यवस्था सही नहीं हुई तो होगा उग्र आंदोलन_- सागर
‌देहरा, ।जब वर्दाश्त की सारी हदें पार हो जाए और पानी सर से ऊपर वहन लगे तब समाज को कुव्यवस्था से वचाने के लिए लिए युवा वर्ग को आगे आना ही पड़ता है देहरा नगर पंचायत और पूरी देहरा विधानसभा क्षेत्र में इस वक्त सडक़ो की दुर्दशा और अव्यवस्था अपने चर्म पर है इन सभी हालातो को देखते हुए देहरा के युवा समाजसेवी सुकृत सागर ने देहरा के युवाओं और अठनीय लोगो के साथ मिल कर इस अव्यवस्था को पन्द्रह दिन के अंदर सुधारने के लिए उपमंडलीय अधिकारी को ज्ञापन सौंपा है 7 पत्रकार बार्ता में सुकृत सागर ने बताया कि उन्होंने देहरा की समस्याओं जिसमे मु यत: देहरा में बिछाई जा रही सीवरेज लाइन से जो सडक़े टूटी है उनको जल्द ठीक करने के लिए साथ मे देहरा अस्पताल के आसपास की सडक़ को जल्द साफ करवा कर पक्का करने हेतु इसके अलावा देहरा के सातों वार्डो की गलियों को रिपेयर कर ठीक करवाना और देहरा बस स्टैंड को दरुस्त तथा साफ सुथरा करने के अलावा देहरा के सभी टॉयलेट की दशा सुधारने और पूरी देहरा विधानसभा क्षेत्र की सडक़ों को जल्द से जल्द ठीक कर पक्का करबाने के लिए उपमंडलीय अधिकारी से निवेदन किया है7 सुकृत सागर ने कहा इस वक्त पूरे देहरा शहर में अव्यवस्था फैली हुई है ओर सारे का सारा प्रशासन गहरी नींद सोया हुआ है देहरा की जनता की तरफ न ही तो कोई नेता और न ही कोई अधिकारी ध्यान दे रहा है तो मुझे लगता है कि अब इस लड़ाई को देहरा की जनता को खुद ही लडऩा होगा और इस अव्यवस्था को ठीक करना होगा सुकृत सागर ने कहा है कि हमने इस कुव्यवस्था को ठीक करने के लिए प्रशासन को पन्द्रह दिन का समय दिया है और अगर पंद्रह दिन में यह अव्यवस्था सुधरती नजऱ नही आई तो हमे देहरा के युवाओं और जनता के साथ मजबूरन सडक़ो पर उग्र आंदोलन करना पड़ेगा फिर चाहे हमे जेल ही क्यों न हो जाए. इस मौके पर शहीद भगत सिंह यूथ क्लब के अध्यक्ष पारस चौहान, सचिन शर्मा , विकास वालिया, कमल, छोटू, नीतीश धीमान , कनिष्क शर्मा आदि मौजूद रहे .

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।