मोटापा कम करने के लिए खा रहे हैं दवा तो हो जाएं सावधान, पड़ सकता है पछताना
September 24th, 2019 | Post by :- | 471 Views

फ्रांस में वजन कम करने के लिए दी गई दवाई से हुई सैकड़ों मौतों के मामले में दवा कंपनी सर्वियर धोखाधड़ी और लापरवाही के आरोपों को लेकर जांच का सामना कर रही है। फ्रांस के औषधि निगरानीकर्ता समूह को भी जांच के घेरे में लिया गया।

दवा कंपनी सर्वियर की दवाई मिडिएटर को खाने के बाद हृदय वाल्व की समस्या के कारण फ्रांस में 500 से अधिक लोगों की मौत हो गई।  सर्वियर, उसकी नौ सहायक कंपनियां और एएनएसएम औषधि निगरानीकर्ता के खिलाफ आपराधिक मुकदमें के छह महीने तक चलने की संभावना है।

जिन 12 लोगों के खिलाफ यह मामला चल रहा है, उनमें से सर्वियर के पूर्व नंबर दो अधिकारी फिलिप्पे सेता, अफसाप्स आयोग के चिकित्सक सदस्य तथा पूर्व सीनेटर एम थेरेज हरमांगे शामिल हैं। हरमांगे पर एक ऐसी रिपोर्ट तैयार करने का आरोप है, जो सर्वियर के पक्ष में थी। विशेषज्ञों का अनुमान है कि इतने लंबे समय में इस वजह से तकरीबन 2100 मौतें हो सकती हैं ।

स्वास्थ्य घोटाले पर बन चुकी है फिल्म- 
यह एक बहुत बड़ा स्वास्थ्य घोटाला था, जिस पर वर्ष 2016 में एक फ्रेंच फिल्म ‘150 मिलीग्राम’ भी बनी है। यह फिल्म वास्तविक जीवन में श्वसन रोग विशेषज्ञ आईरीन फ्रैंकोन के जीवन पर आधारित है, जिसने अपने प्रचार और जांच के माध्यम से इस कथित घोटाले को प्रकाश में लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। उम्मीद है कि वह  कंपनी और दवाई के खिलाफ गवाही दे सकती है, जो बाजार में पिछले 33 साल से है और जिसका इस्तेमाल 50 लाख लोग कर रहे हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।