शिवरात्रि पर चाहिए भोलेनाथ से खास वरदान तो खास फूल चढ़ाएं, हर फूल का है विशेष आशीर्वाद #news4
February 19th, 2022 | Post by :- | 146 Views
महाशिवरात्रि 2022: शिव पुराण में भगवान शंकर की पूजा में फूल-पत्तियां दोनों को ही चढ़ाने का विशेष महत्व बताया गया है। हालांकि शिवजी को तुलसी का पत्ता, केवड़ा और केतकी का फूल नहीं चढ़ता है। महाशिवरात्रि शिवरात्रि (Mahashivratri 2022) के दिन आओ जानते हैं कि फिर कौनसे फूल अर्पित करने का क्या है खास महत्व।
1. शंखपुष्पी : इस फूल को अर्पित करने से लक्ष्मी की प्राप्ति होती है और आरोग्य का वरदान मिलता है।
2. आंकड़ा : इसे मदार भी कहते हैं। इसे अर्पित करने से लंबी आयु का वरदान मिलता है साथ ही मोक्ष भी प्राप्त होता है।
3. धतुरे : इसके फूल को अर्पित करने से संतान सुख की प्राप्ति होती है।

4. हरसिंगार : हरसिंगार के फूल अर्पित करने से सुख, संपत्ति और वैभव में वृद्धि होती है।
5. अलसी : इसके फूल अर्पित करने से पापों का नाश होता है।
6. शमी : शमी के फूल को अर्पित करने से शनिदोष दूर होते हैं और मोक्ष की प्राप्ति होती है।
7. बेला : इसके फूल अर्पित करने से सुंदर और सुयोग्य जीवनसाथी मिलता है।
8. जपाकुसुम : इसके फूल अर्पित करने से शत्रुओं का नाश होता है।
9. कनेर : इस फूल को अर्पित करने से मनचाहा धन प्राप्त होता है।
10. अगस्त्य : इसके फूल को अर्पित करने से मान-सम्मान और यश में वृद्धि होती है।
11. जूही : इस फूल को अर्पित करने से जीवन से दु:ख-दारिद्रय मिट जाती है।
12. चमेली : इस फूल को अर्पित करने से जीवन में सकारात्मकता ऊर्जा और वाहन सुख की प्राप्ति होती है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।