इंदिरा मार्केट की छत पर अवैध रूप से सामान बेचने वाले खदेड़े #news4
May 8th, 2022 | Post by :- | 115 Views

मंडी : नगर निगम की मेयर, डिप्टी मेयर व अन्य पार्षदों ने इंदिरा मार्केट की छत पर अवैध रूप से सामान बेचने वालों को खदेड़ दिया। रविवार को साप्ताहिक अवकाश के दौरान जैसे ही बिना अनुमति सामान बेचने वाले इंदिरा मार्केट की छत पर पहुंचे, नगर निगम की मेयर दीपाली जसवाल की अगुवाई में पहुंची टीम ने सामान को पैक करवाकर उन्हें वहां से खदेड़ दिया।

इंदिरा मार्केट की छत पर दोबारा सामान बेचते हुए पकड़े गए तो उनका सामान जब्त कर नियमानुसार कार्रवाई करने की अंतिम चेतावनी भी दी गई। शहर की शान इंदिरा मार्केट की छत को सुबह, शाम लोगों की चहलकदमी के लिए विकसित किया गया है जिससे वे वहां फुर्सत के पल व्यतीत कर सकें। इसके लिए नगर निगम की ओर से यहां पर लोगों के बैठने के लिए बैंच लगाए गए हैं। रात के समय स्ट्रीट लाइट्स की भी व्यवस्था की गई है। सेल्फी प्वाइंट यहीं पर स्थित होने के कारण शहर में आने-जाने वाले अधिकतर लोग इस स्थान पर कुछ समय के लिए जरूर रुकते हैं। इंदिरा मार्केट में खरदारी करने वाले भी इस स्पाट से ही आवागमन करते हैं। नगर निगम की ओर से यहां पर सफाई व्यवस्था भी चकाचक की गई है। किसी भी व्यक्ति को मार्केट की छत पर अवैध रूप से दुकानदारी सजाने की मनाही है। इसके बावजूद कुछ लोग यहां पर दुकानदारी करने से बाज नहीं आ रहे हैं। नगर निगम की ओर से हालांकि कई बार ऐसे लोगों का सामान भी जब्त किया गया है मगर ये लोग मनमानी कर रहे हैं।

इंदिरा मार्केट की छत पर बैठकर ये लोग इस स्थान की सुंदरता को भी ग्रहण लगा रहे हैं। वे दीवारों को थूक से गंदा करने में भी कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं। रविवार को जैसे ही ये लोग अपने सामान सहित छत पर पहुंचे तो नगर निगम की टीम ने उन्हें वहां से खदेड़ दिया। इस दौरान डिप्टी मेयर वीरेंद्र भट्ट शर्मा, पार्षद पुष्पराज कात्यान समेत सफाई निरीक्षक भी मौजूद रहे। इंदिरा मार्केट की छत पर अवैध रूप से दुकानदारी नहीं की जा सकती है। बिना अनुमति सामान बेचने वालों को कई बार चेतावनी दी गई है। इसके बावजूद कुछ लोग अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। रविवार को ऐसे लोगों पर शिकंजा कसते हुए उन्हें छत से हटाया गया है। दोबारा पकड़ में आने पर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की चेतावनी दी गई है।

-दीपाली जसवाल, मेयर, नगर निगम मंडी

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।