स्वयं सहायता समूहों को समझाया पोषण अभियान का महत्व
July 24th, 2019 | Post by :- | 272 Views

पोषण अभियान के अंतर्गत राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के स्वयं सहायता समूह के सदस्यों के लिए बुधवार को खंड विकास अधिकारी कार्यालय कुल्लू के सम्मेलन कक्ष में एक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। इस शिविर में स्वयं सहायता समूहों की सदस्यों सहित लगभग 150 महिलाओं ने भाग लिया। इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास विभाग के पर्यवेक्षक नरेश कौंडल ने पोषण अभियान के उददेश्यों और क्रियान्वयन के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पोषण अभियान को जन आंदोलन बनाने हेतु आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से बड़े पैमाने पर समुदाय आधारित गतिविधियां आयोजित की जा रही हैं। पोषण अभियान में नवजात शिशु के शुरुआती 1000 दिनों की विशेष निगरानी की जा रही है और इसमें नवीनतम तकनीक का भी सहारा लिया जा रहा है। पर्यवेक्षक दीपक शर्मा ने प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना पर जानकारी दी। आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारी डा. नताशा ठाकुर ने कुपोषण से निपटने के उपायों पर जानकारी दी। स्वच्छ भारत मिशन के जिला समन्वयक इंद्र देव ने पोषण अभियान की सफलता में स्वच्छता की भूमिका पर प्रकाश डाला। समाज शिक्षिका महिमा शर्मा ने उपस्थित जनसमूह का आहवान किया कि वे जन सहयोग के माध्यम से पोषण अभियान को सफल बनाएं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।