शुद्ध जल की खोज में झंडूता के धीणवां पहुंची टीम #news4
March 2nd, 2022 | Post by :- | 95 Views

बिलासपुर : भारत सरकार के जलशक्ति विभाग की टीम के तत्वाधान तथा केंद्रीय भूमि जल खंड मंडल धर्मशाला की टीम बिलासपुर के विभिन्न स्थानों में पानी की खोज में जुटी हुई है। यह टीम भूमि के अंदर से स्वच्छ जल निकालने के प्रयास कर रही है, लेकिन टीम का यह प्रयास अभी तक कारगर साबित नहीं हो पा रहा है। टीम ने बिलासपुर के विभिन्न स्थानों पर पानी की खोज करने के लिए बोर किए लेकिन अभी कुछ हासिल नहीं हो पाया है।

नार्दन हिमालयन रिसर्च सेंटर धर्मशाला की टीम ने अभी तक बिलासपुर के हारकुकार में बोर किया था, लेकिन वहां पर भी सफलता नहीं मिली। इसके बाद सनौर कुठेडा में टीम का लक्ष्य दो सौ मीटर गहराई तक बोर कर शुद्ध पानी की खोज करने का था लेकिन 129 मीटर तक ही बोर हो पाया। अब यह टीम ग्राम पंचायत छत, कपाहड़ा के मध्य धीणवां नामक स्थान पर बोर करके पानी की खोज में जुटी है, लेकिन टीम यहां भी अधिक ड्राई होने की वजह से पानी के लेवल को नहीं पकड़ पा रहे हैं।

नार्दन हिमालयन टीम के ड्रिलर इंचार्ज दर्शन सिंह के अनुसार मशीनरी द्वारा दस इंच का बोर किया जाता है। पानी की सतह पर मानीटिरिग रिग के लिए एक इंस्ट्रूमेंट छोड़ा जाता है। इससे क्षेत्र में कब-कब पानी का लेवल कितना कम ज्यादा हो रहा है इसके पता लगाते हैं। चारों मौसमों में पानी की मात्रा की जानकारी जुटाने में तथा भूकंप के आने से पहले की उथल पुथल का पता लगाने में, बच्चों को स्टडी करवाने में यह इस्ट्रूमेंट कारगर साबित होंगे। नार्दन हिमालयन रिसर्च धर्मशाला के एचजी देवेंद्र सिंह ने बताया कि जिला में पानी की खोज के लिए दो स्थानों सनौर व हारकुकाहर में बोर किया गया, लेकिन पानी का लेवल सही मात्रा में नहीं मिला। अब टीम ने धीणवां नामक स्थान पर बोर करना शुरू कर दिया है। केंद्र सरकार के आदेशानुसार पानी की खोज की जा रही है अगर खोज पूरी हो जाती है तो यह बोर जलजीवन मिशन के तहत स्थानीय विभाग को सौंप दिया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।