संस्थान ही करें कचरा प्रबंधन की व्यवस्था #news4
July 7th, 2022 | Post by :- | 64 Views

डलहौजी : नगर परिषद डलहौजी व हिलदारी संस्था के संयुक्त तत्वाधान में वीरवार को स्थानीय बचत भवन में विभिन्न स्कूलों व होटल व्यवसाय से जुड़े लोगों के लिए स्वच्छता विषय पर कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला की अध्यक्षता एसडीएम डलहौजी जगन ठाकुर ने की। जिला पर्यटन विकास अधिकारी निशांत ठाकुर कार्यशाला में बतौर मुख्यातिथि व नगर परिषद डलहौजी की कार्यकारी अधिकारी राखी कौशल विशेष रूप से उपस्थित रहीं।

एसडीएम जगन ठाकुर ने कहा कि उचित कचरा प्रबंधन से शहर को गंदगी मुक्त बनाने में योगदान दें। इसके लिए सबसे महत्वपूर्ण कदम यही है कि कचरे के निस्तारण की व्यवस्था संस्थानों व प्रतिष्ठानों से ही हो। जिला पर्यटन विकास अधिकारी ने पर्यटन को बढ़ावा दिए जाने और डलहौजी के सुंदरीकरण के सुझाव पर भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि पर्यटन व्यवसाय प्रदेश की आर्थिकी एवं रोजगार का मुख्य मुख्य हिस्सा है। देश-विदेश के पर्यटकों का रुख डलहौजी सहित साथ लगते पर्यटन स्थलों की ओर वर्ष भर बना रहता है। पर्यटकों एवं पर्यटन से जुड़े व्यावसायियों को बेहतर सुविधाएं प्रदान करना जहां सरकार की प्राथमिकता है वहीं पर्यटन कारोबारी भी अपनी ओर से इसमें अधिक से अधिक योगदान देकर पर्यटन क्षेत्र को और अधिक बेहतर बना सकते हैं। उन्होंने कहा कि पर्यटकों की काफी ज्यादा आमद के मद्देनजर डलहौजी में पार्किंग स्थल बनाए जाने की संभावनाएं तलाशी जा रही हैं जिसके लिए होटल संचालकों से इस संबंध में सुझाव भी आमंत्रित किए जा रहे हैं, ताकि पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए एक बेहतर एवं कारगर कार्य योजना बनाई जा सके।

कार्यशाला में यह भी निर्णय लिया गया है कि पर्यटन विभाग की ओर से उपमंडलीय प्रशासन, नगर परिषद और होटल कारोबारियों के सहयोग से जल्द ही डलहौजी के मुख्य स्थानों पर दिशासूचक बोर्ड लगाए जाएंगे जिससे कि यहां आने वाले पर्यटकों को पर्यटन स्थलों सहित अन्य मार्गों की जानकारी के लिए परेशानियों का सामना न करना पड़े। इस अवसर पर हिलदारी संस्था के सदस्यों सहित होटल संचालक अशोक महाजन, करण मोंगा, राहुल उपमन्यु सहित विभिन्न होटलों व स्कूलों के प्रतिनिधि मौजूद थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।