इनवैस्टर मीट जो करा दिया…. राजकोषीय घाटा बढा दिया
November 13th, 2019 | Post by :- | 133 Views
इनवैस्टर मीट जो करा दिया…. राजकोषीय घाटा बढा दिया

प्रदेश सरकार ने बड़े बड़े स्पने पाल कर इनवेस्टर मीट कराया। सोचा था प्रदेश पर धन की वर्षात होगी। मगर यहां तो सिर्फ खर्चों की ही फेहरिस्त इतनीं लंबी हो गई, कि राजकोष भी खुद से सवाल कर रहा होगी, कि क्या इसके लिए टैक्स बटोरे थे…?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नमस्ते करने भर के लिए अदाकारा यामी गौतम को बुलाया गया था। एक्ट्रेस यामी गौतम को इस इन्वेस्टर्स मीट में आने के लिए 5 लाख रूपए दिए गए हैं, जिसमें ट्रैवलिंग और अन्य खर्चे शामिल नहीं हैं। यामी ने प्रधानमंत्री मोदी को हिमाचली टोपी और मफलर पहनाकर उनका स्वागत किया। किसी बढिया हिमाचली टोपी की कीमत बाजार में 500 से 1000 रूपए के बीच में हैं, जबकि हिमाचली मफलर 2000 से 10 हजार रूपए तक आसानी से बाजार में मिल जाता है। इससे भी बढिया लेना हो तो कीमत दोगुना रख लो..

यहां यह स्वागत हिमाचली परिधान में कोई भी बिटिया कर सकती थी, मगर फिर खर्चा नहीं हो पाता। यही नहीं, यामी गौतम के साथ आने वाले 2 अन्य लोगों का 3 दिन तक पूरा खर्चा राज्य सरकार ने उठाया। यामी और उनकी मैनेजर के लिए बिजनेस क्लास और उनके टीम मेंबर्स के लिए इकोनॉमी क्लास में टिकट से लेकर होटल में रूकना और सिक्योरिटी प्रोवाइड कराने तक सारा खर्चा राज्य सरकार ने ही उठाया है। अंदाजा इसी से लगाया जा सकका है कि इन सब चार्जेस को मिलाकर सरकार के 10-12 लाख रूपए और खर्च हो गए हैं। जबकि इससे कई गुना बेहतर तब लगता, जब हिमाचली परिधान पहने हुए, प्रदेश की बच्चियां यह स्वागत करती.. लहौल, किन्नौर, चंबा जैसे स्थानीय परिधान देख हर किसी की जुवां से, वाह ही निकलता

फिलहाल खर्चों की फेहरिस्त तो बहुत लंबी है… अभी तो करोड़ों के खर्च का हिसाब बाकी है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।