जयराम बोले, चार साल में नहीं ली चार दिन की छुट्टी, कांग्रेसी पेन-कापी लेकर आएं बता दूंगा कितना विकास किया #news4
April 24th, 2022 | Post by :- | 99 Views

चंबा : प्रदेश में हमारी सरकार को बने चार साल चार माह का समय हुआ है। इन चार सालों में हमने चार दिन भी छुट्टी नहीं ली। सवा चार साल का हर पल काम करने के साथ लोगों की सेवा में ही बीता। कई सालों तक प्रदेश में राज करने वाले कांग्रेस के लोग कह रहे हंै कि जयराम ने कुछ नहीं किया। मैं कांग्रेस के लोगों को कहना चाहता हूं कि आप पेन कापी लेकर सामने बैठ जाएं। फिर मैं बताता हूं कि सवा चार साल में हमारी सरकार ने क्या काम किए हैं।

यह बात मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने चुराह में अपने संबोधन में कही। क्षेत्र को सौगातें देने के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि, कांग्रेस से मैंने जब पूछा कि आप मुझे एक बड़ी योजना बता दें। जो उन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान जनता के लिए शुरू की ओर अब भी चल रही है। मैंने विधानसभा में कांग्रेस के नुमाइंदों से यह प्रश्न कर योजना को बताने की मदद पांगी थी। कांग्रेस के लोग योजना बताना तो दूर इसका जवाब देने में भी असमर्थ हो गए। यह लोग प्रदेश में सरकार बनाने के सपने देख रहे हैं। सतह में आने के बाद हमारा हर पल लोगों की सेवा में बीता है। दिन-रात काम किया है। ऐसे में प्रदेश में सरकार बनाने के सपने देख रहे लोग इस बात को याद रखे की सरकार तो हमारी ही बनेगी।

‘आप’ को खल की तरह लपेट देंगे

दिल्ली से हिमाचल आकर ‘आप’ के लोग जितना उटक-पटक लें, लेकिन देवभूमि हिमाचल में आप का कोई भी वजूद नहीं हैं। आप को तो हम एक खल (गेहंू के दाने निकालने के लिए छत पर गोलाई में रखी गेहंू पर बैलों दौड़ाया जाता है जिसे खल कहते हैं) की तरह लपेट देंगे। प्रदेश में कांग्रेस पार्टी भी खत्म हो चुकी है। ऐसे में कांग्रेस हो या आप व कोई अन्य दल चाहे जितना जोर लगा ले। प्रदेश में सरकार तो बीजेपी की ही बनेगी।

इस बार पांच की पांच

पिछली दफा चंबा के लोगों ने दिल खोल कर सहयोग किया, लेकिन किसी कारणवश एक सीट हाथ से फिसल गई। मैं इस मंच से चंबा के लोगों से अपील करना चाहता हूं कि इस बार पिछली कमी को भी पूरा करना है और चंबा की पांच की पांच सीटों पर कमल खिलाना है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।