हमीरपुर की अनदेखी का कौन है जिम्मेदार? जनता को बताए जयराम सरकार : राजेेंद्र राणा #news4
July 14th, 2022 | Post by :- | 29 Views

हमीरपुर : हमीरपुर दौरे पर आए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर लगे हाथों यह भी बता दें कि साढ़े 4 वर्षों तक आखिर हमीरपुर की अनदेखी सरकार ने क्यों और किस कारण से की है। हमीरपुर की अनदेखी के लिए बीजेपी सरकार जिम्मेदार है या फिर पार्टी की आपसी खींचतान जिम्मेदार है। यह बात प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष एवं विधायक राजेंद्र राणा ने यहां जारी प्रेस बयान में कही है। राणा ने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को यह भी बताना होगा कि करोड़ों के पुलिस पेपर लीक घोटाले की जिम्मेदारी किसकी है। जिस अग्निपथ योजना का बीजेपी बखान कर रही है। वह अग्निपथ योजना सेना में भर्ती होने वाले नौजवानों के विरोध व विद्रोह का कारण बनी है तो इसके लिए जिम्मेदार कौन है। प्रदेश के कर्मचारी लगातार साढ़े चार सालों से अपने हक हकूकों के लिए तड़प रहे हैं तो इस पर जवाब कौन देगा। 2014 लोकसभा व 2017 विधानसभा चुनावों से पहले महंगाई को कम करने करके सत्ता में आई बीजेपी के राज में महंगाई आसमान क्यों और किन कारणों से छू रही है। इसका जवाब भी मुख्यमंत्री को देना होगा।

ट्रेलर देख चुकी बीजेपी, अब पिक्चर रिलीज होने का करे इंतजार
प्रदेश की जनता का मुंहतोड़ जवाब का ट्रेलर बीजेपी उपचुनावों में देख चुकी है और अब बीजेपी पिक्चर रिलीज होने का इंतजार करे। जनता किस को मुंहतोड़ जवाब देगी चुनाव के बाद बीजेपी को मालूम हो जाएगा। राणा ने कहा कि लोकतंत्र में सरकार की कारगुजारी व नाकामियों की जिम्मेदारी व जवाबदेही चुनी हुई सरकारों की होती है लेकिन दिलचस्प स्थिति यह है कि बीजेपी  जिम्मेदारी व जवाबदेही लेने की बजाय विपक्ष से सवाल पूछ रही है। राणा ने चुटकी लेते हुए कहा कि अब तो बीजेपी के दिग्गज नेता भी मान और जान चुके हैं कि बीजेपी का जहाज डूबने वाला है। शायद यही कारण है कि पूर्व बीजेपी अध्यक्ष खिमी राम की बिना शर्त कांग्रेस एंट्री के बाद अब कई नेता कांग्रेस के पाले में आने को तैयार बैठे हैं। राणा ने कहा कि बीजेपी की हालत तो अब ऐसी हो चुकी है कि उससे न रोए बन रहा है न हंसे बन रहा है। अब बीजेपी अपने अंतिम दिन गिन रही है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।