कर्फ्यू में फंसे प्रवासी मजदूरों की सहायता के लिए आगे आएं करसोग निवासीः सुरेन्द्र ठाकुर
April 4th, 2020 | Post by :- | 202 Views

करसोग, (मंडी) 04 अप्रैल 2020ः कोरोना वायरस के सक्रंमण से आज पुरा विश्व जुझ रहा है और हमारा देश भी इस सक्रंमण से अछूता नहीं रहा है। इस सक्रंमण से बचने के लिए सोशल डिंस्टेस अर्थाथ व्यक्ति से व्यक्ति के बीच में कम से कम एक मीटर की दूरी बनाये रखना जरूरी है ताकि यह वायरस एक दूसरे को प्रभावित न करे।

उपमण्डलाधिकारी नागरिक करसोग सुरेन्द्र ठाकुर ने ऐसे 452 व्यक्तियों की सहायता के लिए जो अपनी रोजी रोटी कमाने के लिए दूसरे राज्यों से हिमाचल प्रदेश के गावांे में आये थे और कर्फयू लगने के कारण अपने घर वापिस नहीं जा सके। उन लोगों के खान पान की सामग्री को जमा करने के लिए उपमण्डलाधिकारी कार्यालय करसोग में फुड बैंक में गांव-गांव से 109 फुड किट जमा करवाने आये गावं काओ, ममेल व करसेग के साथ लगते समाजसेवियों द्वारा फुड बैंक में राशन कीट जमा करते हुए उनका आभार व्यक्त करते हुए कही।
इसके अतिरिक्त आज शनिवार को चेतन शर्मा, गांव कुटी निवासी ने 10,000 हजार तथा निंदू ठाकुर ने 1100 रूपये कर चैक उपमण्डाधिकारी करसोग को भेंट किया।
सुरेन्द्र ठाकुर ने कहा कि करसोग उपमण्डल में अभी तक कोरोना वायरस से सक्रंमित कोई भी मामला सामने नहीं आया है। फिर भी उन्होंने इस सक्रंमण को फैलने से रोकने के लिए ऐसे सभी 11 यात्री जो हाल ही में विदेशों से वापिस अपने घर आये हैं अपने घरों में कोरनटाइन में रहने की अपील की है। इसके अतिरिक्त ऐसे सभी 452 कामगार लोग जो बाहरी राज्यों से काम कमाने के लिए करसोग में आये हैं को भी जहां हैं वहीं कोरनटाइन में रहने की अपील की है।
उन्होंने बताया कि करसोग में अभी तक ऐसे मजदूरों की सहायता के लिए संजीत शर्मा, तहसीलदार करसोग, नायब तहसीलदार पांगना तथा विकास खण्ड अधिकारी करसोग राजेंद्र तजेटा के सहयोग से 61 राशन कीट देकर 186 लोगों की सहायता पहंुचाई गई है। इसके अतिरिक्त सुरेन्द्र ठाकुर ने कहा कि उपमण्डल करसोग के सभी गांवों में 4 अप्रैल से स्वास्थ्य चैकअप के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम आप लोगों के घर-घर जायेगी जिन्हें आप सहयोग करें।

उपमण्डला अधिकारी करसोग ने एक बार पुनः सभी समाजसेबियों से अपील करते हुए कहा कि इस महामारी के समय उन सभी लोगों की सहायता के लिए आगे आयें जो कर्फयू के दौरान अपने घरों के लिए वापिस नहीं जा सके और करसोग में रह रहे हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।