बरसाती मौसम को ध्यान में रखते हुए नदी-नालों व खड्डों से दूर रहें-एसडीएम
July 20th, 2019 | Post by :- | 145 Views

मण्डी, 20 जुलाई: एसडीएम जोगिन्दर नगर अमित मैहरा ने कहा कि मानसून मौसम को ध्यान में रखते हुए लोग नदी नालों व खड्डों से दूर रहें ताकि किसी प्रकार की कोई अप्रिय घटना घटित न हो सके। उन्होने कहा कि बरसात के कारण नदी-नालों व खड्डों का जलस्तर अचानक बढऩे की संभावना बनी रहती है ऐसे में वे नदी-नालों व खड्डों से दूर रहें।
एसडीएम ने लोगों से अपने मवेशियों को भी नदी-नालों व खड्डों से दूर रखने का आहवान किया है ताकि एकाएक जलस्तर बढऩे से किसी प्रकार का जान-माल का नुकसान न हो सके। इसके अतिरिक्त बच्चों को भी नदी नालों व खड्डों के समीप न जानें दें।
उन्होने बताया कि बरसाती मौसम को ध्यान में रखते हुए आईपीएच, लोक निर्माण विभाग, बिजली बोर्ड को सभी एहतियाति कदम उठाने के निर्देश पहले ही जारी कर दिए गए हैं ताकि लोगों को किसी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े।
अमित मैहरा ने कहा कि बिजली बोर्ड के अधिकारियों को बरसाती मौसम के दौरान निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित बनाए रखने के लिए विद्युत लाईनों के आसपास पेड़-पौधों की आवश्यक कांट-छांट जबकि लोक निर्माण विभाग को सभी पुलियों, नालियों इत्यादि की साफ-सफाई बनाए रखने के निर्देश दिए गए हैं। इसके अतिरिक्त आईपीएच विभाग को अपने सभी पेयजल योजनाओं के भंडारण टैंकों की समुचित साफ-सफाई के साथ-साथ जल स्त्रोत को भी साफ-सुथरा बनाए रखने को कहा है।
उन्होने कहा कि बरसाती मौसम के दौरान कई बीमारियों के पनपने की संभावना बनी रहती है, ऐसे में लोग सड़े गले फल व सब्जियां खाने से भी परहेज करें तथा अपने घरों के आसपास भी समुचित साफ-सफाई बनाए रखें। उन्होने लोगों से घरों के समीप पानी एकत्रित न होने देना, घास इत्यादि की झाडियां न उगने देने का भी आहवान किया है ताकि मच्छर इत्यादि पनपने की संभावना न रहे।
-000-

: एसडीएम जोगिन्दर नगर अमित मैहरा ने कहा कि मानसून मौसम को ध्यान में रखते हुए लोग नदी नालों व खड्डों से दूर रहें ताकि किसी प्रकार की कोई अप्रिय घटना घटित न हो सके। उन्होने कहा कि बरसात के कारण नदी-नालों व खड्डों का जलस्तर अचानक बढऩे की संभावना बनी रहती है ऐसे में वे नदी-नालों व खड्डों से दूर रहें।
एसडीएम ने लोगों से अपने मवेशियों को भी नदी-नालों व खड्डों से दूर रखने का आहवान किया है ताकि एकाएक जलस्तर बढऩे से किसी प्रकार का जान-माल का नुकसान न हो सके। इसके अतिरिक्त बच्चों को भी नदी नालों व खड्डों के समीप न जानें दें।
उन्होने बताया कि बरसाती मौसम को ध्यान में रखते हुए आईपीएच, लोक निर्माण विभाग, बिजली बोर्ड को सभी एहतियाति कदम उठाने के निर्देश पहले ही जारी कर दिए गए हैं ताकि लोगों को किसी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े।
अमित मैहरा ने कहा कि बिजली बोर्ड के अधिकारियों को बरसाती मौसम के दौरान निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित बनाए रखने के लिए विद्युत लाईनों के आसपास पेड़-पौधों की आवश्यक कांट-छांट जबकि लोक निर्माण विभाग को सभी पुलियों, नालियों इत्यादि की साफ-सफाई बनाए रखने के निर्देश दिए गए हैं। इसके अतिरिक्त आईपीएच विभाग को अपने सभी पेयजल योजनाओं के भंडारण टैंकों की समुचित साफ-सफाई के साथ-साथ जल स्त्रोत को भी साफ-सुथरा बनाए रखने को कहा है।
उन्होने कहा कि बरसाती मौसम के दौरान कई बीमारियों के पनपने की संभावना बनी रहती है, ऐसे में लोग सड़े गले फल व सब्जियां खाने से भी परहेज करें तथा अपने घरों के आसपास भी समुचित साफ-सफाई बनाए रखें। उन्होने लोगों से घरों के समीप पानी एकत्रित न होने देना, घास इत्यादि की झाडियां न उगने देने का भी आहवान किया है ताकि मच्छर इत्यादि पनपने की संभावना न रहे

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।