पहली ग्राऊंड ब्रेकिंग का हिसाब जनता के समक्ष रखें मुख्यमंत्री : नरेश चौहान #news4
December 24th, 2021 | Post by :- | 69 Views

शिमला : कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता नरेश चौहान ने कहा कि प्रदेश सरकार केवल घोषणाओं तक समिति है। सरकार ने वर्ष 2019 में धर्मशाला के अंतर्गत एक इन्वैस्टर मीट का आयोजन किया। इस दौरान दावा किया गया कि 96000 करोड़ के 700 एमओयू किए गए हैं। इससे आने वाले समय में 1 लाख युवाओं को रोजगार मिलेगा। उसके बाद 2020 में सरकार ने ग्राऊंड ब्रेकिंग का आयोजन किया। उसमें दावा किया गया कि 13700 करोड़ रुपए का निवेश आया है। इसी कड़ी में अब 4 साल का कार्यकाल पूरा होने पर 27000 करोड़ रुपए की दूसरी गाऊंड ब्रेकिंग की बात कही जा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार एक के बाद एक ग्राऊंड ब्रेकिंग कर रही है लेकिन यह जनता को नहीं बता रही है कि कितना निवेश आया, किस-किस ने कहां-कहां उद्योग लगाए तथा कितने बेरोजगार युवाओं को रोजगार मिला।

दृष्टिपत्र में किए गए कितने वायदे 4 साल में पूरे हुए

नरेश चौहान ने राजीव भवन में आयोजित पत्रकार वार्ता में कहा कि सरकार इन्वैस्टर मीट के साथ ही ग्राऊंड ब्रेकिंग को लेकर श्वेत पत्र जारी करे ताकि सच्चाई सामने आ सके। इसके साथ ही सरकार बताए कि चुनाव के समय जारी किए गए दृष्टिपत्र में से कितने वायदे 4 साल में पूरे किए गए हैं। चौहान ने कहा कि यदि सरकार ने जनता से किए वायदे पूरे किए हैं तो उसके बारे में पूरे तथ्य जनता के समक्ष क्यों नहीं रखे जा रहे। उन्होंने कहा कि केंद्र और प्रदेश सरकार महंगाई और बेरोजगारी से निपटने में पूरी तरह फेल साबित हुई है। जयराम सरकार के पास 4 साल की ऐसी कोई उपलब्धि नहीं है, जिसके नाम पर वह जनता के बीच जा सके। उपचुनाव के परिणामों से साफ है कि वर्तमान सरकार जनता का समर्थन खो चुकी है।

पीएम का स्वागत, बताएं हिमाचल को क्या दिया

नरेश चौहान ने कहा कि सरकार के 4 साल का कार्यकाल पूरा होने पर मंडी में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री भी शिरकत करने आ रहे हैं। उनका हिमाचल में कांग्रेस भी स्वागत करती है। वह हिमाचल को अपना दूसरा घर बताते हैं। उनकी भावनाओं की हम कद्र करते हैं लेकिन उन्हें प्रदेश की जनता को यह भी बताना चाहिए कि 4 साल में केंद्र ने हिमाचल को क्या-क्या सौगातें दीं।

69 एनएच की सच्चाई क्या है

चौहान ने कहा कि चुनाव के समय केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने प्रदेश में 60000 करोड़ रुपए के 69 एनएच बनाने की घोषणा की लेकिन धरातल पर अभी तक एक भी एनएच नजर नहीं आया। उन्होंने कहा कि चुनाव में राजनीतिक लाभ लेने के लिए यह झूठी घोषणा की गई थी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।