किसान सभा आनी ने किया विकास खण्ड अधिकारी का घेराव
March 2nd, 2020 | Post by :- | 128 Views

हिमाचल किसान सभा आनी ईकाई ने आनी बाजार मे मनरेगा को लेकर रैली निकाली ।रैली के बाद खंड बिकास कायार्लय आनी का मनरेगा को लेकर घेराब किया गया। इस प्रदर्शन सैंकड़ों लोगों ने भाग लिया । मनरेगा को लेकर जोरदार नारेबाजी की ।कायार्लय के बाहर सभा की। सभा को किसान सभा अध्यक्ष प्रताप ठाकुर , सीटू सचिव पदम प्रभाकर , जिला परिषद लोकेंद्र ने संम्बोधित किया।अधयक्ष प्रताप ने कहा कि प्रशासन और बिभाग का मनरेगा के काम को लेकर रबैया ढिला है । प्रबंध भी सही नहीं है ।2019 -20 की शैलफ को लैपस किया जा रहा है । लोंगों को रसीद भी नहीं दी जा रही है। लोकेंद्र कुमार ने कहा कि सरकार मनरेगा को पंगु बनाने पर जुटी है। मनरेगा के बजट मे कटौती की जा रही है। दुसरी तरफ हिमाचल प्रदेश सरकार बहुत लापरवाह है । हर बिभागों मे स्टाफ सिर्फ नाममात्र है ।

खंड बिकास आनी में न ही वीडियो है न ही पूरा सटाफ है।एक ग्राम रोजगार सेबक पांच पंचायत का काम कर रहे हैं ! तकनीकी सहायक नाममात्र है ! अब पचायत सचिव के हबाले भी दो दो पंचायत संभाली जा रही है, यह दुर्भाग्यपूर्ण है, ऐसे में काम कैसे चलेगा? यह इन कर्मचारियों का भी शोषण है, सरकार मुकदर्शक बन बैठी है।सीटू सचिव पदमप्रभाकर ने कहा कि बिभाग की कार्यप्रणाली सही नहीं है। अधिकतर पंचायतो में मनरेगा मे अनियमितता हो रही है, भ्रष्टाचार हो रहा है ।
फार्म नं 6भरने के बाद भी रसीद नहीं दी जा रही। मनरेगा के काम मे प्रशासन का भी फेलियर है मनरेगा अधिनियम 2005 को जानबूझकर कमजोर किया जा रहा है।वर्ष 2010- 2011 मे प्रति परिवार को औसतन 60 दिन का काम मिला।वर्ष 2015 -16 में प्रति परिवार को 30 -40 काम मिला । यह सरकारी आंकडा है। आज हालात और भी खराब है।हर साल मनरेगा के बजट मे कटौती की जा रही है। अभी हाल ही के बजट मे मनरेगा के बजट मे दस हजार करोड़ की कटौती की गई। भाजपा की अच्छे दिन का सपना दिखाने बाली भाजपा सरकार ज्बाब दे। आने बाले समय मे मनरेगा को लेकर लगातार संघर्ष किया जाएगा।किसान सभा ने मुख्य मांगे रखी बित बर्ष 2019 -2020 की शैलफों का काम पूरा करो। साल में नयुनतम 200 दिन का प्राबधान करो। मनरेगा मे न्यूनतम दिहाड़ी तीन सौ तय की जाए।
मनरेगा अधिनियम के तहत मनरेगा मजदूरी को 15 दिनों के अंदर दि जाए। मनरेगा के लिए मापदंड को सरल किया जाए। मनरेगा मे 120 दिन का रोजगार सुनिश्चित किया जाए। रसीद देना सुनिश्चित करें। बिभाग मे खाली पदों को शिध्र भरो। पंचायत सचिव को एक ही पंचायत का काम दो। किसान सभा सचिव गीताराम ने कहा कि आने बाले समय मे मनरेगा को लेकर अंदोलन किया जाएगा । गांव मे लोगों को सरकार की गलत नितयों को उजागर किया जाएगा । मनरेगा अधिनियम को लेकर जागरूक किया जाएगा।। हिमाचल किसान सभा आनी मोदी सरकार को चेतावनी देती है कि देश के किसानों और मजदूरों की एकता तोडना बंद करें । बोट के नाम पर हिंदुत्व को बंद करें।जंनता को मनरेगा मे रोजगार दो । इस प्रदर्शन मे किसान सचिव गीताराम , अध्यक्ष प्रताप ठाकुर , सीटू सचिव पदम प्रभाकर , लोकेंद्र कुमार , मिलाप बिजय , टिकम हरबिंदर , बीर सिहं हेमराज , राजेंद्र टेकचंद , बेलीराम मौजूद रहे !

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।