लाहुल पुलिस व प्रशासन ने आधी रात को रेस्‍क्‍यू किए 105 यात्री, 30 छतड़ू में फंसे #news4
August 1st, 2022 | Post by :- | 90 Views

मनाली : हिमाचल प्रदेश में भारी का दौर अभी थमने वाला नहीं है। रविवार को डोहरनी नाले में फंसे 105 यात्रियों को लाहुल स्पीति पुलिस व प्रशासन के बचाव दल ने बीआरओ के साथ मिलकर रेस्कयू कर लिया है। देर रात तक चले इस रेस्कयू अभियान में 105 यात्रियों को कोकसर पहुंचाया, जबकि वाहन चालकों सहित 30 यात्रियों को डोहरनी से वापस छतड़ू भेजा। एक वाहन भी मलबे की चपेट में आया है। वाहन चालक वाहन खड़ा करके आगे सड़क देखने निकला था कि ऊपर से मलबा आ गया, जिससे वाहन क्षतिग्रस्त हुआ है। चालक छतडू में सुरक्षित है।

हालांकि छतडू में खतरे वाली कोई बात नहीं है। पांच से अधिक ढाबों में खाने पीने व रहने की व्यवस्था है। साथ ही स्थानीय कारोबारियों ने वहां टेंट भी लगाए हुए हैं। लेकिन जब पर्यटक छतडू से आगे डोहरनी नाले में फंस गए तो प्रशासन चिंता बढ़ गई। यात्रियों के डोहरनी नाले में फंसे होने की सूचना जब केलंग प्रशासन को मिली तो प्रशासन ने रेस्कयू टीम के साथ घटना स्थल की ओर कूच किया। पुलिस ने जगह जगह जवान तैनात किए थे। सड़क खराब होने का हवाला देते हुए पुलिस ने काजा जाने वाले यात्रियों को कोकसर से ही वापस कर दिया। लेकिन काजा व चंद्रताल से मनाली आ रहे यात्री डोहरनी नाले में आई बाढ़ में फंस गए। फंसे यात्रियों को पुलिस रेस्क्यू टीम ने बीआरओ की गाड़ियों में कोकसर पहुंचाया। छतड़ू में ठहरे यात्रियों को प्रशासन ने रहने व खाने पीने की व्यवस्था की।

बीआरओ कमांडर कर्नल शबरिश वाचली ने बताया कि बीआरओ सड़क बहाली में जुटा हुआ है। नालों में बाढ़ आने व जगह-जगह भूस्खलन होने से बंद मार्ग बहाल किए जा रहे हैं। एसपी लाहुल स्पीति मानव वर्मा ने बताया 105 यात्रियों को सुरक्षित रेस्कयू कर लिया है, जबकि 30 को छतडू में ठहराया गया है। सड़क बहाल होते ही सभी अपने वाहनों में मनाली की ओर निकल आएंगे। उन्होंने बताया कि एक गाड़ी मलबे की चपेट में आई है लेकिन गनीमत रही है कि चालक सुरक्षित है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।