रोबोट्स बनाना और कोडिग करना सीखा #news4
December 13th, 2021 | Post by :- | 365 Views

गोहर : राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला बगस्याड में रोबोटिक्स एवं आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कार्यशाला में विद्यार्थियों ने रोबोट बनाना व उसकी कोडिंग करना सीखा। यह कार्यशाला एक प्रायोगिक कार्यक्रम है, जिसका आयोजन हिमाचल प्रदेश सरकार की ओर से समग्र शिक्षा अभियान के निदेशक डा. वीरेंद्र शर्मा की देखरेख में किया जा रहा है।

कार्यशाला का संचालन हिमाचल प्रदेश के कुल्लू के एक युवा उद्यमी शरद खन्ना ने किया। वह आस्ट्रेलिया में एरोबोटिक्स ग्लोबल नाम की संस्था चलाते हैं और रायल एयरफोर्स कैडेट्स को सेवाएं देते आ रहे हैं।

सोमवार को पाठशाला के 20 छात्रों ने रोबोटिक्स, कोडिग और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की पायलट की वर्कशाप करवाई गई, जिसमें विद्यार्थियों को रोबोट्स बनाना और उनकी कोडिग करना सिखाया गया साथ ही भविष्य में उसका किस प्रकार से प्रयोग किया जाए, इस बात की जानकारी भी दी गई। स्कूल के पि्रंसिपल देवराज ने बताया कि यह अच्छी पहल है, जो समग्र शिक्षा और हिमाचल सरकार की ओर से शुरू की गई है। वर्कशाप से बच्चों को रोबोटिक्स और कोडिग के बारे में अहम ज्ञान प्राप्त हुआ है। इस पायलट वर्कशाप के होने के बाद स्कूलों में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एवं कोडिग को लाने एवं लागू करने के लिए समग्र शिक्षा की ओर से प्रोजेक्ट रिपोर्ट स्वीकृति के लिए प्रदेश सरकार की ओर से भारत सरकार को भेजी जाएगी।

युवा उद्यमी ने किया बच्चों का मार्गदर्शन

युवा उद्यमी एवं रोबोटिक्स ग्लोबल कंपनी के एमडी शारद खन्ना ने बताया कि वह अपनी टीम और भारत के साथ आस्ट्रेलिया में भी रोबोटिक्स ग्लोबल नामक संस्थान चलाते हैं और पिछले 10 वर्ष से रोबोटिक्स कोडिग और एआई जैसे विषयों में रिसर्च कर रहे हैं। हिमाचल में भी वह स्कूली छात्रों को रोबोटिक कोडिग के विषयों से अवगत करवा रहे हैं। शिमला और कुल्लू जिला में सफल कार्यशाला करने के बाद अब मंडी जिला के विभिन्न स्कूलों में सरकार की ओर से समग्र शिक्षा अभियान के इस प्रोजेक्ट को छात्रों के बीच लाया गया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।