जिला किन्नौर की ग्राम पंचायत कोठी में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण किन्नौर द्वारा विधिक साक्षरता व जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया … #news4
November 12th, 2021 | Post by :- | 182 Views

राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण व राष्ट्रीय महिला आयोग के सौजन्य से आज जिला किन्नौर की ग्राम पंचायत कोठी में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण किन्नौर द्वारा विधिक साक्षरता व जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता जिला विधिक सेवा प्राधिकरण किन्नौर के सचिव विक्रांत कौण्डल ने की। उन्होंने कहा कि किन्नौर जिला के महिलाओं तथा बच्चों को उनके कानूनी अधिकारों के बारे में अवगत करवाना इस जागरूकता शिविर का मुख्य उद्देश्य है।
विक्रांत कौण्डल ने बताया कि 9 नवम्बर, 1995 को विधिक सेवा प्राधिकरण अधिनियम एक राष्ट्रव्यापी नेटवर्क स्थापित करने के लिए प्रभाव में लाया गया जिसके तहत राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण राष्ट्रीय स्तर पर गठित किया गया। इसके उपरान्त राज्य स्तर पर राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण व जिला स्तर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण का गठन किया गया। उन्होंने कहा कि प्राधिकरण का मुख्य उद्देश्य कमजोर वर्गों को निष्पक्ष व सार्थक न्याय सुनिश्चित करने के लिए एक समावेषी कानूनी प्रणाली को बढ़ावा देना है।
उन्होंने बताया कि महिलाओं के प्रति हिंसा व उत्पीड़न के मामलों को कम करने के लिए कानूनी प्रावधानों के अलावा यह भी आवश्यक है कि माता-पिता अपने बच्चों को उचित संस्कार दें व एक आदर्श नागरिक बनने के लिए प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि बच्चे भावी समाज की नींव होते हैं तथा सुदृढ़ नींव से ही एक सशक्त व उत्तम समाज की स्थापना की जा सकती है।
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की अधिवक्ता बबीता नेगी ने जागरूकता शिवर में उपस्थित लोगों को महिलाओं से संबंधित अधिकारों, घरेलू हिंसा व पोस्को एक्ट के बारे में जागरूक किया। उन्होंने लोगों को महिलाओं के प्रति उत्पीड़न व बच्चों से संबंधित शोषण के मामलों में निःशुल्क कानूनी सहायता के प्रावधान से अवगत करवाया।
इस अवसर पर अधिवक्ता कुलभूषण नेगी ने लोगों को सामाजिक बुराई दहेज प्रथा से संबंधित कानूनी प्रावधानों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि दहेज का लेन-देन कानूनी अपराध है तथा ऐसा करने वालों को कानूनन 3 से 5 साल की सजा का प्रावधान है।
इस अवसर पर जिला बाल संरक्षण अधिकारी एल.आर नेगी ने भी बच्चों, महिलाओं के अधिकारों व उनके कल्याण के लिए आरंभ की गई विभिन्न योजनाओं की विस्तृत जानकारी दी।
ग्राम पंचायत कोठी के प्रधान ओम प्रकाश नेगी व उप-प्रधान महेश नेगी, पंचायत समिति सदस्य करूणा नेगी व महिला मण्डल कोठी की प्रधान शीलवती ने जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा उनकी पंचायत में विधिक साक्षरता शिविर आयोजित करने के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि इस शिविर के आयोजन से स्थानीय महिलाओं तथा अन्य को अपने अधिकारों के प्रति जानकारी हासिल हुई है जो सराहनीय है।
विधिक साक्षरता शिविर में लगभग 70 महिलाओं तथा पुरूषों ने भाग लिया।
इस अवसर पर पुलिस व होमगार्ड के जवान भी विधिक साक्षरता शिविर में उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।