मंडी शिक्षा उत्थान समिति का कुनबा बढ़ाने को चलेगा महाअभियान
August 1st, 2019 | Post by :- | 400 Views

मंडी, 01 अगस्त : मंडी शिक्षा उत्थान समिति का कुनबा और पहुंच बढ़ाने के लिए जिले में तीन महीने का महाअभियान छेड़ा जाएगा। इसके तहत जनता और प्रशासन के संयुक्त प्रयासों से जिलेभर में अधिक से अधिक लोगों को समिति से जोड़ा जाएगा। समिति के संदेश को जन-जन तक पहुंचाने के लिए प्रचार-प्रसार के सभी माध्यमों का प्रयोग किया जाएगा।

उपायुक्त आशुतोष गर्ग ने गुरुवार को यहां आयोजित मंडी शिक्षा उत्थान समिति की बैठक के उपरांत यह जानकारी दी। बैठक में समिति के गैर सरकारी व सरकारी सदस्यों और विभिन्न शिक्षण संस्थानों और समाज सेवी संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।
गर्ग ने कहा समिति जरूरतमंद बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहन राशि उपलब्ध करवा रही है। इसके तहत अब तक 312 बच्चों की मदद की जा चुकी है। समाज के अलग अलग तबकों से दान के रूप में करीब 12 लाख रुपए एकत्रित कर विभिन्न शिक्षण संस्थानों के माध्यम से वितरित किए गए हैं।

समिति से जुड़ने की अपील

उन्होंने सभी जरूरतमंद बच्चों और दानी सज्जनों से समिति से जुड़ने की अपील की। कहा किसी भी बच्चे को शिक्षा के लिए मदद की जरूरत हो तो मामला समिति के ध्यान में लाएं। जो लोग बच्चों की पढ़ाई के लिए आर्थिक मदद करने के इच्छुक हों वे संबंधित एसडीएम से इसे लेकर मिलें। इसके अलावा उपायुक्त कार्यालय या सचिव जिला रैडक्रॉस सोसायटी के कार्यालय दूरभाष नंबर 01905-224913 पर भी सम्पर्क किया जा सकता है।
समिति सदस्य अपने आसपास के लोगों को भी मंडी शिक्षा उत्थान समिति से जुड़ने के लिए प्रेरित करें ताकि अधिक से अधिक बच्चों को शिक्षा प्रदान करने के लिए सहायता उपलब्ध करवाई जा सके। कोई भी व्यक्ति समिति का सदस्य बन सकता है और जरूरतमंद बच्चों को शिक्षा प्रदान करने में मदद कर सकता है।

अगली बैठक में गठित होगी गवर्निंग बॉडी

समिति की गतिविधियों को और बेहतर तरीके से कार्यान्वित करने के लिए अगली बैठक में गवर्निंग बॉडी का गठन किया जाएगा। मैनेजिंग टीम बनाई जाएगी। इससे समिति के कामकाज को व्यवस्थित तरीके से आगे बढ़ाया जा सकेगा।
समिति हर तीन महीने में बैठक करेगी।

जल्द होगा कांउसलिंग सेशन

समिति जिन बच्चों की मदद कर रही है उनके लिए जल्द ही एक कांउसलिंग सेशन रखा जाएगा। इसमें उन सभी बच्चों को बुलाकर उन्हें आगे की पढ़ाई और करियर को लेकर उपयुक्त मार्गदर्शन दिया जाएगा। इस दौरान उनके आत्मविश्वास में बढ़ोतरी पर जोर दिया जाएगा।

बच्चों और डोनर में सीधे संवाद की होगी व्यवस्था

भविष्य में इस प्रकार की व्यवस्था विकसित करने के प्रयास किए जाएगें कि बच्चों और डोनर के बीच सीधा संपर्क व संवाद हो सके। मदद चाहने वाला बच्चा जिस क्षेत्र का हो उसी क्षेत्र के समिति सदस्य से उसकी पढ़ाई के खर्चे के लिए मदद लेने का प्रयास किया जाएगा। इसमें समिति की मध्यस्थ की भूमिका रहेगी और डोनर व बच्चे में सीधे संवाद की व्यवस्था बनेगी। इससे दान देने वाले लोगों को इस बात का भी पता रहेगा कि वे किसकी मदद कर रहे हैं और बच्चा पढ़ाई में कैसा प्रदर्शन कर रहा है।

मेलों से अर्जित आय में भी होगी हिस्सेदारी

समिति को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए जिलेभर मे होने वाले मेलों से अर्जित आय का कुछ प्रतिशत समिति के खाते में डालने की व्यवस्था बनाई जाएगी। इसके अलावा मेलों-त्यौहारों में समिति अपने स्टॉल लगाएगी ताकि लोगों को इसकी गतिविधियों की जानकारी मिले और अधिक लोग इससे जुड़ें।

सबने बढ़ाए मदद को हाथ

बैठक में मौजूद सभी गैर सराकरी व सरकारी सदस्यों ने जरूरतमंद बच्चों की शिक्षा तय बनाने की इस मुहिम को आगे बढ़ाने में हर संभव मदद का संकल्प दोहराया। इस दौरान समिति के सदस्यों ने इसकी गतिविधयों को और निखारने के लिए बहुमूल्य सुझाव दिए।
क्या करती है समिति
कई बार आर्थिक तंगी और विषम पारिवारिक परिस्थितियों के कारण कुछ बच्चे पढ़ने की इच्छा रखने के बावजूद उच्च शिक्षा ग्रहण नहीं कर पाते। ऐसे बच्चों की मदद करने के उद्देश्य से सितंबर 2015 में उत्थान समिति का गठन किया गया था। यह आम जनता की पहल थी जिसमें फिर जिला प्रशासन जुड़ा और इसे व्यापक अभियान की सूरत दी।

जिला सचिव रैडक्रॉस सोसायटी के सचिव ओ.पी. भाटिया ने बैठक की कार्यवाही का संचालन करते हुए समिति की अब तक की गतिविधियों पर प्रकाश डाला। बताया समिति ने बुक बैंक भी तैयार किया है। इससे बच्चों को सिलेबस की किताबें मुहैया करवाई जा रही हैं।

बैठक में एसडीएम जोगिंदर नगर अमित मेहरा, एसडीएम बल्ह आशीष शर्मा, सहायक रजिस्टार कॉपरेटिव सोसायटी रजनीश कुमार, समिति के संस्थापक सदस्य राजा सिंह मल्होत्रा, मातुल मल्होत्रा, सुधांशू कपूर, रोटरी क्लब जोगिंदर नगर व खत्री सभा मंडी के अध्यक्ष सहित गैर सरकारी, सरकारी सदस्य और विभिन्न शिक्षण संस्थानों एवं समाज सेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।