मकर संक्रांति 2023 : तिल के 11 प्रयोग आपकी किस्मत चमका देंगे
January 7th, 2023 | Post by :- | 79 Views
इस बार 15 जनवरी 2023 रविवार को मकर संक्रांति का पर्व मनाया जाएगा। मकर संक्रांति पर तिल, गुड़ और खिचड़ी का बहुत महत्व होता है। इसी के साथ सूर्य को अर्घ्य देना और श्री हरि विष्णु की पूजा करने का भी खास महत्व माना गया है। आओ जानते हैं मकर संक्रांति के दिन कौन से ऐसे 11 कार्य करें कि आपका भाग्य खुल जाए।
1. काले तिल और गुड़ के लड्डू बनाकर खाने से घर में सुख समृद्धि आती है
2. काले तिल और गुड़ का दान करने से सूर्य और शनि दोनों की कृपा प्राप्त होती है।
3. संक्रांति के दिन काले तिल के लड्डू, नमक, गुड़, काले तिल, फल, खिचड़ी और हरी सब्जी का दान अतिशुभ माना गया है। इस दिन तिल गुड़ या रेवड़ी का दान किया जाता है।
4. मकर संक्रांति के दिन एक मुठ्ठी काले तिल लेकर परिवार के सभी सदस्यों के सिर पर 7 बार उसार कर घर के उत्तर दिशा में फेंक देने की भी मान्यता है, इससे अनायास होने वाली धनहानि में कमी आकर घर में धन की बरकत बनी रहती है।
5. इस दिन पानी में तिल मिलाकर स्नान करना शुभ माना जाता है। तिल का उबटन लगाकर भी स्नान कर सकते हैं। इस उपाय को करने से बुरी नजर से आप बच सकते हैं।
6. इस दिन तिल मिला पानी सूर्यदेव को अर्पित करने से उनकी कृपा प्राप्त होती है। संक्रांति के दिन सूर्य को तांबे के लोटे के जल भर कर उसमें कुंकुम, अक्षत, तिल तथा लाल रंग का फूल डालकर जल अर्पित करें। जल अर्पित करते समय ‘ऊँ घृणि सूर्याय नम:” मंत्र का जाप करें। ऐसा करने से आपकी मनोकामना पूरी होगी।
7. इस दिन पितरो की शांति के लिए जल युक्त अपर्ण करें। पितरों को जल देते समय उसमें तिल का प्रयोग करें इससे घर-परिवार को आरोग्य, सुख एवं समृद्धि की प्राप्ति होती है।
8. इस दिन सरसों के तेल में तिल मिलाकर उस तेल को एक लोहे की कटोरी में भरकर उसका दीपक जलाकर उसे शनि मंदिर में रखने से शनिदेव की कृपा प्राप्त होती है।
9. एक स्वच्छ लोटे में शुद्ध जल भरे और उसमें थोड़े काले तिल डालकर उसे ॐ नम: शिवाय का मंत्र जपते हुए शिवलिंग पर अर्पित करने से शुभ फल की प्राप्ति होगी और सभी रोग दूर होंगे।
10. तिल की आहुति देने से भी शुभ फलों की प्राप्ति होती है।
11. तिल के छह प्रयोग : विष्णु धर्मसूत्र में कहा गया है कि पितरों की आत्मा की शांति के लिए एवं स्व स्वास्थ्यवर्द्धन तथा सर्वकल्याण के लिए तिल के छः प्रयोग पुण्यदायक एवं फलदायक होते हैं-
1. तिल जल से स्नान करना।
2. तिल दान करना।
3. तिल से बना भोजन।
4. जल में तिल अर्पण।
5. तिल से आहुति।
6. तिल का उबटन लगाना।
अस्वीकरण (Disclaimer) : चिकित्सा, स्वास्थ्य संबंधी नुस्खे, योग, धर्म आदि विषयों पर news4 में प्रकाशित, आलेख एवं समाचार सिर्फ आपकी जानकारी के लिए हैं। इनसे संबंधित किसी भी प्रयोग से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।