अब आनलाइन मिल सकेंगे औषधीय उत्पाद एवं पौधे #news4
April 20th, 2022 | Post by :- | 79 Views

रोहड़ू : उपमंडल रोहड़ू की पंचायत रोहल में त्रिदेव औषधीय पौध उत्पादन सोसायटी ने औषधीय पौधों की खेती कर सरकार की वन व जन समृद्धि योजना के तहत सैकड़ों किसानों को आत्मनिर्भर बनाने का जिम्मा उठाया है। सोसायटी के तहत यहां के किसान वन विभाग की योजनाओं का लाभ लेने के साथ इन जड़ी-बूटियों की खेती से कमाई भी कर रहे हैं। सोसायटी ने अब अपने उत्पादों को लोगों तक आसानी से पहुंचाने के लिए वेबसाइट लांच की है। इस वेबसाइट को वन मंडलाधिकारी रोहडू शाहनवाज अहमद भट्ट ने लांच किया।

सोसायटी के प्रधान कृपाल सिंह ने बताया कि वह लंबे समय से प्राकृतिक जड़ी-बूटियों की खेती कर रहे हैं। खेती से पैदा होने वाले उत्पादों को वह वन विभाग एवं निजी माध्यमों से बाजार में बेच रहे हैं। उन्होंने बताया कि समय की मांग को देखते अब उत्पादों को आनलाइन माध्यम से कंपनियों तक पहुंचाया जाएगा। इस वेबसाइट में सोसायटी के किसानों की ओर से पैदा होने वाले प्राकृतिक उत्पाद औषधीय विशेषताओं के साथ मिल सकेंगे। इन औषधीय गुणों को औषधीय पौधों के शोधकर्ता राजन रोल्टा एवं उपमंडलीय आयुर्वेदिक स्वास्थ्य अधिकारी डा. दलीप सिंह ने प्रमाणित किया है। डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यूत्रिदेव औषधि डाट काम पर अब उत्पाद उपलब्ध होंगे।

वन मंडल अधिकारी शाहनवाज अहमद भट्ट ने बताया कि त्रिदेव औषधीय पौध उत्पादन सोसायटी वन विभाग के मार्गदर्शन में प्राकृतिक एवं औषधीय पौधों की खेती में सराहनीय कार्य कर रही है। ये सभी किसान सरकार के आयुष मंत्रालय एवं जन समृद्धि वन समृद्धि योजनाओं का लाभ उठाकर खूब कमाई कर रहे हैं। किसानों की ओर से पैदा किए जाने वाले औषधीय उत्पादों को वेबसाइट बनाकर उसके आनलाइन विपणन से इन किसानों की आर्थिकी मजबूत होगी। इस मौके पर औषधीय पौधों के शोधकर्ता राजन रोल्टा, सोसायटी के सचिव सन्नी मेहता, कोषाध्यक्ष अंकिता ठाकुर भी मौजूद रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।