मंत्री बिक्रम ठाकुर बोले, परागपुर में दो करोड़ की लागत से बनाया जाएगा इनडोर स्टेडियम #news4
November 7th, 2021 | Post by :- | 99 Views

काँगड़ा : हिमाचल प्रदेश के उद्योग, परिवहन तथा श्रम एवं रोजगार मंत्री बिक्रम ठाकुर ने रविवार को जसवां परागपुर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत उझे खास के बाथू टिप्परी क्षेत्र में वालीबाल प्रतियोगिता का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि परागपुर में दो करोड़ रुपये की लागत से इनडोर स्टेडियम का निर्माण कार्य पूर्ण किया जाएगा तथा इस स्टेडियम के निर्माण से विश्वस्तरीय सुविधाएं घर द्वार पर ही मिलेंगीं। उन्होंने खिलाडिय़ों का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि स्वस्थ और तनाव मुक्त रहने के लिए खेल संबंधी गतिविधियों में युवाओं को बढ़-चढ़कर हिस्सा लेना चाहिए।

उन्होंने कहा कि स्वस्थ शरीर और दिमाग को विकसित करने के लिए खेल महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। खेलों से स्वास्थ्य तो ठीक रहता ही है, इनसे मनुष्य का चरित्रिक और अध्यात्मिक विकास भी होता है। खेलकूद मनुष्य के मन को प्रसन्न और उत्साहित बनाए रखता है। खेलों से नियम पालन के स्वभाव का विकास होता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार खेलकूद को बढ़ावा देने के लिए आवश्यक कदम उठा रही है तथा युवाओं को खेलों के प्रति आकर्षित करना सरकार की प्राथमिकता है।

बिक्रम ठाकुर ने कहा कि जसवां परागपुर विधानसभा क्षेत्र की अधिकांश ग्राम पंचायतों के अंदर जनता के आग्रह पर ओपन जिम खोले गए हैं जिसके चलते युवा अपने शरीर को तंदुरुस्त बनाए रखने के लिए जिमों का प्रयोग कर रहे हैं, जिम उपकरणों की खरीद के लिए युवाओं को सांसद तथा विधायक क्षेत्रीय विकास निधि योजना के तहत माकूल धन उपलब्ध करवाया गया है।

पुराने कार्यकर्ताओं की हुई है अनदेखी : योगराज

प्रदेश भाजपा ओबीसी उपाध्यक्ष योगराज मेहरा ने कोटला में कहा कि प्रदेश में चार उपचुनाव में कांग्रेस की जीत और भाजपा की हार हुई है। मुख्यमंत्री, मंत्री, विधायक अगर धरातल पर न आए तो जनता धरती पर बैठाना जानती है। कांग्रेस के नेता बयानबाजी कर रहे हैं कि हम सेमीफाइनल जीत गए, लेकिन फाइनल कांग्रेस तभी जीत पाएगी जब तक उसकी नीति और नेता सामने आएंगे वरना कांग्रेस की लुटिया डूबी है और यह ठीक है कि भाजपा के कुछ नेताओं व कार्यकर्ताओं ने इन चुनावों में काम नहीं किया और नोटा की ओर ज्यादा ध्यान दिया। उनका गुस्सा भी जायज है कि पुराने कार्यकर्ताओं की अनदेखी संगठन व सरकार में हुई है, लेकिन याद रहे कि केवल वीरभद्र ङ्क्षसह की सहानुभूति बटोरी है और 2006 का हमीरपुर का उपचुनाव भाजपा के सांसद के रूप में प्रो. प्रेम कुमार धूमल जीते थे और 2007 में सरकार बनी थी और प्रेम कुमार धूमल मुख्यमंत्री बने थे। तब कोई किसी प्रकार की सहानुभूति नहीं थी। अब भाजपा धरातल पर उतरेगी और जमीनी स्तर के लोगों, कार्यकर्ताओं की अनदेखी को मद्देनजर रखकर भाजपा काम करेगी और जो जनहित में योजना बनाई है, उन्हें जनता तक पहुंचाने का कार्य करेगी। कांग्रेस भ्रम में न रहे। अब संगठन में सिफारिश से बनाए गए लोगों पर गाज गिरना तय है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।