मंत्री महेंद्र सिंह ने चोज में किया घटनास्थल का दौरा, राहत कार्य में तेजी लाने व बिजली-पानी तुरंत बहाल करने के निर्देश #news4
July 7th, 2022 | Post by :- | 71 Views

कुल्लू : मणिकर्ण घाटी के चोज में बादल फटने की घटना के बाद जल शक्ति, राजस्व, बागवानी एवं सैनिक कल्याण मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने घटनास्थल का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने स्थानीय लोगों, प्रभावितों और जनप्रतिनिधियों से मुलाकात कर घटना पर दुख व्यक्त किया। उन्होंने सरकार और प्रशासन की ओर से राहत कार्य में तेजी लाने का आश्वासन भी लोगों को दिया। उन्होंने प्रशासन को विभिन्न दिशा निर्देश जारी करते हुए कहा कि बिजली-पानी जैसी आधारभूत सेवाओं को बहाल करने के लिए प्रशासन मुस्तैदी से कार्य करने को कहा।

नुक्सान की भरपाई के लिए हरसंभव प्रयास करेगी सरकार
उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से राहत कार्य के लिए उचित कदम उठाए गए हैं और नुक्सान की भरपाई के लिए सरकार हरसंभव प्रयास करेगी। उन्होंने कसौल से मलाणा  वासियों से विडियो कॉल द्वारा संपर्क स्थापित किया। इस दौरान उन्होंने गांव वासियों को संबोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री की ओर से उन्हें मलाणा वासियों के बीच पहुंचने के निर्देश मिले थे लेकिन सड़क खराब होने के चलते वह मलाणा नहीं पहुंच पाए। उन्होंने गांव वासियों को आश्वासन दिया कि मलाणा तक पहुंचने वाली सड़क को बहाल करने के लिए शीघ्र प्रयास किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर मलाणावासियों की दिक्कतों पर गंभीर है और उनकी समस्याओं के समाधान के लिए तत्पर हैं।

पार्वती नदी की सहायक खड्डों और नालों के तटीकरण के लिए तैयार करें डीपीआर
चोज में उन्होंने जल शक्ति विभाग को निर्देश जारी किए कि पार्वती नदी और इसके साथ जुड़ती सहायक खड्डों और नालों के तटीकरण के लिए डीपीआर तैयार की जाए ताकि भारी बारिश के दौरान अप्रिय घटना से बचा जा सके। उन्होंने कहा कि इस संबंध में जो डीपीआर बनती है उसको नाबार्ड या अन्य किसी बैंक के सहयोग से पूरा किया जाएगा। इसके पश्चात उन्होंने स्थानीय जनप्रतिनिधियों और लोगों की विभिन्न मांगों पर भी गौर किया। स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने क्षेत्र में पानी की कमी और कसौल बाजार में सीवरेज की समस्या को प्रमुखता से उठाया और इस समस्या को दूर करने के लिए मंत्री ने जल शक्ति विभाग को दिशा-निर्देश जारी किए।

शाड़ाबाई में जिला प्रशासन और बिजली प्रोजैक्ट प्रबंधनों के साथ की बैठक
इसके पश्चात मंत्री महेंद्र ठाकुर ने शाड़ाबाई में विद्युत विभाग के विश्राम गृह में जिला प्रशासन और बिजली परियोजनाओं के प्रबंधकों के साथ बैठक की। इस दौरान उन्होंने बिजली प्रोजैक्ट प्रबंधकों को चोज में पार्वती नदी पर एक छोटा और एक बड़ा पुल लगाने को लेकर चर्चा की और इस पर लोक निर्माण विभाग से सहयोग करने को दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आपदा के कारण जिन लोगों ने अपने प्रियजन खोए हैं उसकी भरपाई के लिए प्रोजेक्ट प्रबंधन स्वेच्छा से कार्य करें। उन्होंने प्रोजेक्ट प्रबंधकों के साथ लाडा आदि की देनदारी को निपटाने के लिए भी चर्चा की।

आपदा के दौरान तत्परता दिखाए लोक निर्माण विभाग
उन्होंने जिला प्रशासन और विशेष तौर पर लोक निर्माण विभाग को निर्देश दिए कि मानसून के दौरान आपदा के दौरान तत्परता दिखाई जाए। सड़कों को तुरंत खोलने के लिए अधिकारी और कर्मचारी तैयार रहें। अतिरिक्त मशीनरी तैनाती के लिए अधिकारी कार्रवाई करें और लोगों को किसी भी प्रकार की समस्या पेश न आए। इस बैठक के दौरान शिक्षा, कला, भाषा एवं संस्कृति मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर, बंजार के विधायक सुरेंद्र शौरी, पूर्व सांसद एवं विधायक महेश्वर सिंह, एसडीएम विकास शुक्ला सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी, कर्मचारी और विभिन्न जल विद्युत परियोजनाओं के प्रबंधक मौजूद रहे।

 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।