चूड़धार चोटी पर लापता युवक-युवती को हेलीकॉप्टर की मदद से खोजा गया, देहरादून पहुंचाया गया
April 16th, 2019 | Post by :- | 421 Views

आखिरकार एक भाई ने अपने भाई को बर्फ की वादियों में से खोज निकाला। देवास के रहने वाले देवेंदर सिंह को जैसे यह बात पता लगी की उसका भाई रास्ता भटक गया है तो उसने उसी समय दिल्ली से एक हैलीकॉप्टर हायर किया और और भाई को खोज निकाला। हिमाचल पुलिस की मदद से आखिरकार देवेंदर ने अपने भाई नितेश को खोज निकाला।

हिमाचल पुलिस और वन विभाग की टीमों के अथक प्रयास से चूड़धार की चोटी से गायब नितेश और हिमांशी को खोज निकाला गया है। चूड़धार से वापस आने के क्रम में दोनों रास्ता भटक गए थे। इनकी खोज के लिए हिमाचल पुलिस की ओर से काफी प्रयास कर उनकी लोकेशन ट्रेस की गई। उसके बाद उनका पता लगाकर बर्फ से ढकी पहाड़ियों से रेस्क्यू कर देहरादून लाया गया है। दोनों की खोज के लिए हिमाचल डिजास्टर मैनेजमेंट और दिल्ली से आए एक हैलीकॉप्टर की ओर से खोज की जा रही थी।

नितेश मध्यप्रदेश के देवास का रहने वाला है जबकि हिमांशी पंजाब के लुधियाना की रहने वाली है। नितेश के भाई ने दिल्ली से एक प्राइवेट हैलीकॉप्टर हायर कर उसे खोज में लगाया था। नितेश के भाई देवेंदर सिंह ने बताया कि नितेश और हिमांशी को खोज लिया गया है। उन्हें देहरादून लाया जा रहा है उसके बाद बद्दी लाया जाएगा।

जानकारी के मुताबिक, मध्यप्रदेश के रहने वाले नितेश (32) और पंजाब के लुधियाना की हिमांशी (27) शनिवार शाम को नौहरा पहुंचे। रात को दोनों वहां एक होटल में ठहरे। रविवार सुबह नौहराधार से चूड़धार के लिए रवाना हुए। लेकिन, रास्ते में बर्फ अधिक होने से वह चूड़ाधार नहीं पहुंच पाए। दोनों ने वहां किसी गुफा में रात गुजारी। सुबह करीब 9 बजे दोनों चूड़धार पहुंचे। मंदिर में दर्शन के बाद जब वह चूड़ाधार से नौहराधार की तरफ आ रहे थे। तभी वह रास्ता भटक गए। दोनों बद्दी की एक फैक्ट्री में कार्यरत हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।