24 हजार से अधिक नए लोगों को मिली सामाजिक सुरक्षा पेंशन : उपायुक्त
September 28th, 2019 | Post by :- | 111 Views

उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि मंडी जिले में 24 हजार से अधिक नए पात्र लाभार्थियों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन के दायरे में लाया गया है। इनमें 9985 मामले 70 साल से अधिक आयु के व्यक्तियों के हैं। इस प्रकार अब जिले में सामाजिक सुरक्ष पेंशन प्राप्त करने वालों की संख्या बढ़ कर 1 लाख 1 हजार 962 हो गई है। जिले में बीते पौने दो सालों में सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्रदान करने पर 169 करोड़ रुपए व्यय किए गए हैं।
उपायुक्त शनिवार को डीआरडीए सभागार में प्रेस से मिलिए कार्यक्रम में बोल रहे थे। कार्यक्रम में जिला सामाजिक कल्याण विभाग की योजनाओं व बीते पौने दो साल की उपलब्धियों को पत्रकारों के साथ साझा किया गया। जिला कल्याण अधिकारी कुंदन हाजरी ने विभाग की गतिविधयों से अवगत करवाया। ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार समाज के कमजोर व उपेक्षित वर्गों के कल्याण के प्रति वचनबद्ध है। सामाजिक सुरक्षा पेंशन की आयुसीमा को 80 वर्ष से घटा कर 70 वर्ष किया गया है।पेंशन की दर वर्तमान में साधारण परिस्थितियों में 850 रुपए प्रतिमाह और 70 प्रतिशत से अधिक विकलांगता वाले व्यक्तियों तथा 70 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के व्यक्तियों की पेंशन बढ़ाकर 1500 रुपए प्रतिमाह की गई है। उन्होंने कहा कि जिले में पिछले वित्त्त वर्ष में गृह अनुदान योजना में 262 लाभार्थियों को 3.32 करोड़ रुपए की सहायता राशि प्रदान की गई है। इसी प्रकार बीते वर्ष में राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना में 264 लाभार्थियों को 52.80 लाख रुपए, विकलांग विवाह अनुदान योजना में 52 लाभार्थियों को करीब 15 लाख रुपए, विकलांग छात्र-छात्राओं की छात्रवृति योजना में 279 लाभार्थियों को करीब 28 लाख रुपए, अंतर्जातीय विवाह प्रोत्साहन योजना में 45 लाभार्थियों को 22.50 लाख रुपए की धनराशि प्रदान की गई है। वर्तमान वित वर्ष में पहले छ: महीनों में जिले में कल्याण गतिविधियों पर 62.81 करोड़ रुपए खर्चे जा रहे हैं। सामाजिक सुरक्षा पेंशन के लिए 59.28 करोड़ रुपए और गृह अनुदान योजना में 162 लाभार्थियों के लिए 2.12 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। कार्यक्रम में अतिरिक्त उपायुक्त आशुतोष गर्ग, जिला कल्याण अधिकारी कुंदन हाजरी सहित विभिन्न मीडिया संस्थानों के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।