मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना युवाओं के लिए स्वरोजग़ार का स्वर्णिम अवसर: डॉ. अमित #news4
February 2nd, 2022 | Post by :- | 102 Views

ऊना : मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना के तहत आज यहां एम.सी. पार्क में उद्योग विभाग की ओर से एक ऋण मेले का आयोजन किया गया जिसका शुभारंभ अतिरिक्त उपायुक्त डॉ. अमित कुमार शर्मा ने किया। ऋण मेले में विभिन्न बैंक एजैंसियों के अलावा टाटा मोटर्ज, सुजूकी, अशोक लेलैंड, महिन्द्रा एंड महिन्द्रा आदि विभिन्न ऑटोमोबाइल कम्पनियों द्वारा अपने-अपने व्यवसायिक वाहनों की प्रदर्शनियां लगाई गईं। इसके अलावा लोगों को वित्त सम्बन्धी जानकारियां उपलब्ध करवाने के लिए एक वित्तीय साक्षरता केन्द्र भी स्थापित किया गया था। ए.डी.सी1 ने सभी प्रदर्शनियों का अवलोकन किया तथा योजना से अधिक से अधिक लाभार्थियों को जोडऩे का आहवान किया।

इस अवसर पर सम्बोधित करते हुए ए.डी.सी. ने बताया कि सरकार द्वारा युवाओं को स्वरोजग़ार स्थापित करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करने हेतु मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना शुरू की गई है जिसके तहत युवाओं को एक करोड़ रूपये तक का ऋण प्रदान करने की सुविधा दी गई है। योजना में पुरूष लाभार्थियों को 25 प्रतिशत तथा महिलाओं को 30 प्रतिशत की दर से अनुदान देने का प्रावधान है जबकि विधवा महिलाओं के लिए अनुदान राशि 35 प्रतिशत निर्धारित की गई है।

इसके अलावा बैंक ऋण पर 5 प्रतिशत की दर से ब्याज पर अनुदान के साथ-साथ क्रेडिट गारंटी योजना के अन्तर्गत बैंक द्वारा लिया जाने वाले शुल्क को भी माफ किया गया है। उन्होंने जानकारी दी कि चालू वित्त वर्ष के दौरान जिला में निर्धारित 270 लाभार्थियों के लक्ष्य के मुकाबले अब तक 228 मामले प्रायोजित किये गये हैं जिनमें से 130 मामले स्वीकृत हो चुके हैं। उन्होंने बैंक व उद्योग विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि योजना के अधीन लक्ष्य को मार्च तक पूरा किया जाए।

किसके लिए मिलता है ऋण

डॉ. अमित ने बताया कि इस योजना के अन्तर्गत औद्योगिक ईकाइयां, दुकान, सूचना प्रौद्योगिकीय कार्य, सर्विस स्टेशन, जेसीबी, छोटे गुड्स कैरियर, होटल, रेस्टोरेंट, ब्यूटी पार्लर, इको पर्यटन इकाइयां, धर्मकांटा, जिम, बैंक्वेट हाल, मैडिकल लैब, मोबाइल फूड वैन, साइवर कैफे, फोटोकापी मशीन, भण्डारण यूनिट, डेयरी उत्पादन युनिट, कृषि उत्पाद वितरण दुकान, नर्सरी, टिशु कल्चर लैब, अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी आधारित खेती, पेट्रोल पम्प, वोरवैल, ड्रिलिंग रिंग मशीन इत्यादि के लिए ऋण प्रदान किया जाता है।
कैसे करें आवेदन

ए.डी.सी. ने बताया कि इस योजना के लिए वैवसाइट उउेलण्ीचण्हवअण्पद पर ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है जिसके लिए आधार कार्ड, हिमाचली बोनाफाइड, जन्म तिथि प्रमाण पत्र, भूमि के दस्तावेज़ व रेंट डीड अपलोड करना अनिवार्य है। इसके अलावा महाप्रबन्धक जिला उद्योग केन्द्र ऊना से भी सम्पर्क कर सकते हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।