राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, कार्यलयों में काली पट्टी बांधकर किया काम #news4
January 27th, 2022 | Post by :- | 98 Views

कुल्लू : कुल्लू जिला में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के कर्मचारियों ने प्रदेश सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के सैंकड़ों कर्मचारियों ने प्रदेश सरकार पर अनदेखी का आरोप लगाया है। सभी स्वास्थ्य संस्थानों में तैनात कर्मचारियों ने कार्यालयों में काली पट्टी बांधकर प्रदेश सरकार के खिलाफ रोष प्रकट किया है। ऐसे में स्वास्थ्य मिशन के कर्मचारियों ने सरकार मांगे पूरी न करने पर 2 फरवरी सांकेतिक हड़ताल की चेतावनी दी है।

जिला स्वास्थ्य मिशन कर्मचारी संघ कुल्लू की कोषाध्यक्ष डाक्टर शालिनी शर्मा ने कहाकि पिछले 22 वर्षों से स्वास्थ्य मिशन के 17 सौ कर्मचारी प्रदेश सरकार से स्थाई पॉलिसी की मांग कर रहे है। पिछले दिनों प्रदेश सरकार ने सभी विभागों के कर्मचारियों की मांगे पूरी कर सौगात दी है लेकिन स्वास्थ्य मिशन के कर्मचारियों के साथ सरकार सौतेला व्यवहार कर रही है। उन्होंने कहाकि स्वास्थ्य मिशन कर्मचारियों ने सरकार को 25 जनवरी तक रेगुलर पॉलिसी व कर्मचारियों लिए समान काम के समान वेतन की मांग की थी। उस पर सरकार ने कोई निर्णय नहीं लिया। उन्होंने कहाकि अब 2 फरवरी तक सभी स्वास्थ्य मिशन के कर्मचारी काले बिल्ले लगातार रोष प्रकट करेंगे, उसके बाद सांकेतिक हड़ताल करेंगे। प्रदेश के 17 सौ स्वास्थ्य मिशन कर्मचारियों व सभी कर्मचारियों के परिवार भी सरकार को वोट देकर चुनते है ऐसे में सरकार के सौतेले रवैय से सभी कर्मचारियों में नाराजगी है।

जिला स्वास्थ्य मिशन कर्मचारी संघ कुल्लू के मुख्य सलाहकार विमल शर्मा ने कहाकि वो पिछले 22 वर्षो स्वास्थ्य संस्थान में स्वास्थ्य मिशन के तहत कार्य कर रहे है। कोराना काल में स्वास्थ्य मिशन के कर्मचरियों ने दिन रात स्वास्थ्य विभाग को अपनी सेवाएं दी है। ऐसे में चाहे कांग्रेस और भाजपा सरकार हो स्वास्थ्य मिशन के कर्मचारियो की अनदेखी हुई है। उन्होंने कहाकि हम चाहते है कि सरकार स्वास्थ्य मिशन के कर्मचारियो के लिए स्थाई पॉलिसी बनाकर रेगुलर पे स्केल दें और कर्मचारियों के भविष्य सुरक्षित करें। उन्होंने कहाकि 2 फरवरी तक काले बिल्ले लगाकार रोष प्रकट करेंगे और 2 फरवरी से अस्पताल के गेट पर सांकेतिक धरना तब तक चलेगा जब तक सरकार हमारी मांगों को पूरा नहीं करेंगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।