IGMC के 13 मंजिला ओपीडी भवन पर लटकी NGT की तलवार #news4
October 23rd, 2022 | Post by :- | 116 Views

शिमला : आईजीएमसी में बने नए ओपीडी भवन का सरकार ने चुनाव आचार संहिता से पहले उद्घाटन तो कर दिया था लेकिन आज तक ओपीडी शुरू नहीं हो पाई है। चुनाव के बाद ही अब ओपीडी को शुरू करने की अनुमति मिल सकती है। बताया जा रहा है कि इस भवन पर एनजीटी की तलवार लटकी है। वहीं अब चुनाव आचार संहिता भी लगी है, ऐसे में ओपीडी भवन के शुरू होने का लोगों को फिर से इंतजार करना पड़ेगा। चुनाव आचार संहिता हटने व एनजीटी की प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही ओपीडी पुराने से नए भवन में शिफ्ट होगी।

एक दिन में रहती है 3000 से 3500 के बीच ओपीडी 
बता दें कि आईजीएमसी में प्रदेशभर से सैंकड़ों मरीज अपना उपचार करवाने आते हैं। अगर भवन में बन रही ओपीडी शुरू हो जाती तो यहां पर मरीजों को धक्के  खाने को मजबूर न होना पड़ता। इन दिनों आईजीएमसी में मरीजों की संख्या में काफी बढ़ौतरी हो गई है। एक दिन में 3000 से 3500 के बीच ओपीडी रहती है। आईजीएमसी में नए भवन की बात की जाए तो यह शहर की सबसे ऊंची इमारत होगी। 13 मंजिल इस इमारत की ऊंचाई 47 मीटर है। इससे पहले हाईकोर्ट की 10 मंजिला बिल्डिंग शहर की सबसे ऊंची बिल्डिंग मानी जा रही थी। इसकी ऊंचाई करीब 36 मीटर है। ओपीडी ब्लॉक आधुनिक सुविधाओं से लैस होगा। पूरे भवन में लिफ्टों का प्रावधान किया गया है।

नए भवन में ये ओपीडी होंगी शिफ्ट 
नए ओपीडी भवन में मेडिसिन, सर्जरी, ऑर्थो, काॢडयोलॉजी, रेडियोथैरेपी, डर्मेटोलॉजी, गैस्ट्रोएंट्रोलॉजी, नेफ्रोलॉजी, आई ओपीडी, प्लास्टिक सर्जरी, यूरोलॉजी, ईएनटी, सीटीवीएस और पैथेटिक सर्जरी ओपीडी ब्लॉक तैयार किए हैं, इसमें नई आधुनिक सुविधाएं भी मिलेंगी। सभी विभागों की सारी ओपीडी नए भवन में शिफ्ट होनी है। इसके अलावा सभी अल्ट्रसाऊंड, एक्स-रे भी इसी ब्लॉक में होंगे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।