अब एटीएम, फेल लेन-देन के भी करेंगे चार्ज
August 16th, 2019 | Post by :- | 173 Views

प्रधानमंत्री के डिजिटल इंडिया अभियान को यह करारा तमाचा होगा। क्योंकि अब अगर एटीएम में कैश न भी हो, और आप लेन-देन की कोशिश करते हैं, तब भी बैंक की गलती नहीं मानी जाएगी। ऐसे में आपसे ही 20₹ शुल्क बसूला जाएगा।

आप एटीएम जाते हैं और किन्ही कारणों से लेन-देन नहीं हो पाता है तो ये प्रोसेस फ्री रहता था लेकिन अब आरबीआई (RBI) ने इस पर कड़ा संज्ञान लेते हुए फेल हुए ऐलान किया है कि फेल हुए ट्रांसजेक्शन के भी चार्जेज लगेंगे। आरबीआई ने बैंकों को निर्देश दिए हैं कि वे एटीएम पर होने वाले फेल ट्रांजेक्शंस या एटीएम में नकदी न होने जैसे ट्रांजेक्शंस को लोगों को हर महीने मिलने वाले फ्री ट्रांजंक्शंस में गिनती न करे।’

फ्री नहीं होने के बाद ग्राहकों से 20 रुपए वसूले जाते हैं।
अब तक बैंक फेल हुए ट्रांजेक्शंस को भी फ्री ट्रांजेक्शंस में गिना जाता था, इससे बैंक के कस्टमर का फ्री मौका चला जाता था। अब जिस बैंक का कार्ड है, उसी के एटीएम में बैलेंस इन्क्वॉयरी , चेक बुक रिक्वेस्ट, टैक्स पेमेंट, फंड ट्रांसफर आदि जैसे नॉन-कैश विद्ड्रॉल ट्रांजेक्शंस भी फ्री एटीएम ट्रांजेक्शंस नहीं हो पाएगी। आमतौर पर होता यह है कि जिस बैंक का कार्ड है, उसी के एटीएम से महीने में अधिकतम 5 ट्रांजेक्शंस फ्री मिलते हैं। जबकि दूसरे बैंक के एटीएम में महीने में अधिकतम 3 या 5 ट्रांजेक्शंस फ्री मिलते हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।