बहन की शादी के दिन भाई बना एचएएस टॉपर, परिवार की खुशी हुई दोगुनी; जानिए कैसे पाई सफलता
November 27th, 2019 | Post by :- | 125 Views

हिमाचल प्रशासनिक सेवा परीक्षा का परिणाम सराज क्षेत्र की छतरी पंचातय के गांव चासनीनाला के निशांत कुमार और स्वजनों के लिए दोहरी खुशी लेकर आया। निशांत की बहन की शादी मंडी में हो रही थी और स्वजन व रिश्तेदार जश्न मना रहे थे। निशांत की प्रारंभिक शिक्षा छतरी के सरकारी स्कूल में हुई है। आठवीं के बाद वे कुल्लू के बासिंग में पढ़े हैं। राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय मोहाल में उन्होंने जमा दो की परीक्षा पास की। कुल्लू महाविद्यालय से स्नातक की डिग्री हासिल की। आगे की पढ़ाई हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय शिमला में की।

निशांत ने कहा उन्होंने पिछले वर्ष भी एचएएस की परीक्षा पास की थी और बीडीओ पद मिला था। लेकिन नौकरी ज्वाइन नहीं की थी। हिम्‍मत नहीं हारी और तैयारी करता रहा। अब मौका मिला है तो प्रशासनिक अधिकारी के रूप में प्रदेश की सेवा करूंगा। उनके पिता राजेंद्र कुमार स्टेट सीआइडी में सब इंस्पेक्टर हैं और माता आशा भारद्वाज गृहिणी हैं। बेटे की सफलता पर स्वजन फूले नहीं समा रहे हैं।

हिमाचल प्रदेश प्रशासनिक सेवा परीक्षा परिणाम में दूसरे नंबर पर रहे सुंदरनगर के संकल्प गौतम (एचएएस)।

मंडी जिला ने मारी बाजी

हिमाचल प्रदेश प्रशासनिक सेवा (एचएएस) की परीक्षा में मंडी जिला ने बाजी मारी है। इस परीक्षा के पहले दोनों पदों पर मंडी का वर्चस्व रहा है। थुनाग क्षेत्र के निशांत कुमार पहले स्थान पर जबकि सुंदरनगर के संकल्प गौतम ने दूसरा स्थान हासिल किया है। तीसरे स्थान पर पूर्व सैनिक करतार चंद रहे हैं। राज्य प्रशासनिक सेवा की परीक्षा में सात खंड विकास अधिकारी (बीडीओ), सात कोषागार अधिकारी (ट्रेजरी ऑफिसर), दो पदों पर आबकारी एवं कराधान (ईटीओ), दो जिला पर्यटन अधिकारी (डीटीओ) व एक तहसीलदार पद के लिए चयन हुआ है। लोक सेवा ओयाग की ओर से जारी परीक्षा परिणाम में 23 अभ्यर्थियों की सूची जारी की गई है। आयोग की सचिव राखिल काहलों ने इसकी जानकारी दी।

रिकॉर्ड दस माह में निकाला परिणाम

प्रशासनिक सेवा परीक्षा परिणाम को लेकर आयोग के अध्यक्ष सेवानिवृत मेजर जनरल धर्मवीर सिंह राणा ने बताया कि आयोग ने पहली बार रिकॉर्ड दस माह में परिणाम घोषित किया है। इस बार प्रारंभिक परीक्षा में 449 अभ्यर्थी उत्तीर्ण हुए थे। इनमें से 66 अभ्यर्थियों ने मुख्य परीक्षा पास की। पूरी चयन प्रक्रिया को 27 अभ्यर्थियों ने सफलतापूर्वक उत्तीर्ण किया। लोक सेवा आयोग को इस बार दिव्यांग के दो पदों के लिए पात्र नहीं मिले। इसके अलावा स्वतंत्रता सेनानियों के आश्रित और सामान्य वर्ग से संबंध रखने वाले पूर्व सैनिक के एक पद के लिए उपलब्ध नहीं होने के कारण 27 पदों में से चार पद खाली रहे।

ये हुए चयनित

1. निशांत कुमार (एचएएस)

2. संकल्प गौतम (एचएएस)

3. करतार चंद (एचएएस)

बीडीओ

1. अभिषेक

2. विनीत कुमार

3.अंकित कोटिया

4. कंवर तन्मय

5. भानुप्रताप सिंह ठाकुर

6. ओशिन

7. अनिल कुमार

कोषागार अधिकारी

1. राकेश ठाकुर

2. रविंद्र ठाकुर

3. देवेंद्र कुमार

4. हेमराज

5.रोहित ठाकुर

6. अंकज शर्मा

7.सार्थक

ईटीओ

1.मोहित शुक्ला

2.निपुण कश्यप

डीटीओ

1.गिरिजा मनकोटिया

2.दुलिम

तहसीलदार

रोहित कंवर

एआरसीएस

प्रत्यूष चौहान

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।