ऊर्जा संरक्षण पर जागरूकता कार्यशाला का आयोजन वाणिज्यिक भवनों में ऊर्जा संरक्षण के लिए नियम अधिसूचित
June 15th, 2019 | Post by :- | 183 Views

ऊना (15 जून)- केंद्र सरकार के उपक्रम ऊर्जा दक्षता ब्यूरो ने ऊर्जा संरक्षण भवन नियम (ईसीबीसी) पर बचत भवन में आज एक जागरूकता कार्यशाला का आयोजन किया। इस कार्यशाला की अध्यक्षता करते हुए विद्युत विभाग के अधीक्षण अभियंता एके शर्मा ने बताया कि ऊर्जा संरक्षण भवन नियम हिमाचल प्रदेश के 750 वर्ग मीटर के बिल्ट-अप एरिया वाले सभी नए व पुराने वाणिज्यिक भवनों में लागू होना है, ताकि न्यूनतम ऊर्जा के मानक निर्धारित किए जा सकें।
उन्होंने कहा कि इन नियमों के तहत भवन के डिजाइन से जुड़े चार मुख्य घटक हैं, जिनमें भवन, एचवीएसी, लाइटिंग तथा विद्युत व अक्षय ऊर्जा प्रणाली शामिल हैं। राज्य में ऊर्जा संरक्षण भवन नियम को प्रभावी ढंग से लागू करने में ऊर्जा दक्षता ब्यूरो हिमाचल प्रदेश सरकार की सहायता कर रहा है। उन्होंने कहा कि आज के समय में ऊर्जा संरक्षण भवन नियमों को जमीनी स्तर पर लागू करने के लिए क्षमता निर्माण बेहद आवश्यक है।
एके शर्मा ने कहा कि वाणिज्यिक भवनों को ऊर्जा संरक्षण सक्षम बनाने के लिए ईसीबीसी सैल विभिन्न विभागों से समन्वय स्थापित करेगा। साथ ही क्षमता निर्माण के लिए प्रशिक्षण भी उपलब्ध करवाएगा ताकि 40-50 फीसदी तक ऊर्जा बचाई जा सके।
कार्यशाला में मास्टर ट्रेनर मनी खन्ना व जिला-उर-रहमान ने ऊर्जा संरक्षण भवन नियमों के बारे में विस्तार से बताया जबकि सैफुद्दीन ने नियम की मुख्य बातों पर प्रकाश डाला। मास्टर ट्रेनरों ने बताया कि हिमाचल प्रदेश के ऊर्जा विभाग ने ऊर्जा संरक्षण भवन नियम को अधिसूचित कर दिया है और इस संबंध में राजपत्र भी प्रकाशित होने वाला है।
ऊर्जा निदेशालय के अधीक्षण अभियंता दीपक जसरोटिया ने सभी अतिथियों का धन्यवाद किया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।