पूर्व सैनिकों के अनाथ बच्चों को अब मिलेगी बीस हजार सहायता
December 27th, 2019 | Post by :- | 150 Views

सूबे के पूर्व सैनिकों के आश्रित अनाथ बच्चों को पेंशन स्वीकृत होने तक भरण पोषण के लिए अब विभाग की ओर से एकमुश्त 20 हजार रुपये की आर्थिक सहायता मिलेगी। पहले यह राशि दस हजार रुपये मिलती थी। इसे विभाग ने बढ़ाकर अब दोगुना कर दिया है। जब तक ऐसे अनाथ बच्चों को पेंशन नहीं लग जाती तब तक उनके सहारे के लिए यह एकमुश्त सहायता राशि विभाग देता है। सैनिक कल्याण विभाग पुनर्निर्माण और पुन: स्थापना निधि से आश्रित अनाथों को यह आर्थिक सहायता देता है। सूबे में सैकड़ों ऐसे बच्चे हैं जिनके सैनिक पिता और माता की मृत्यु हो चुकी है। ऐसे में एकदम से ही पिता की पेंशन बच्चों को नहीं लग पाती है। पेंशन संबंधी दस्तावेजों की प्रक्रिया में समय लगता है। इस समय के भीतर आश्रितों को अपना गुजारा करने में दिक्कत पेश आती है। ऐसे में यह आश्रित अनाथ इस सहायता राशि के लिए आवेदन कर सकते हैं। आर्थिक सहायता पेंशन लगने से पूर्व एक ही बार मिलेगी।

लड़के की उम्र 25 वर्ष पूर्ण होने से पहले और लड़की की शादी होने से पहले ही यह राशि मिलेगी। अगर पूर्व सैनिक का अनाथ बच्चा 25 साल से ऊपर हो जाएगा  या बेटी की शादी हो जाती है तो यह राशि नहीं मिलेगी। सैनिक कल्याण विभाग के ओएसडी अनुपम ठाकुर ने कहा कि भूतपूर्व सैनिकों के आाश्रित अनाथ बच्चों की पेंशन स्वीकृति तक भरण-पोषण के लिए विभाग अब दस हजार की बजाय 20 हजार रुपये एकमुश्त सहायता राशि देगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।