शुद्धता के मानकों पर खरी उतरी आक्सीजन #news4
December 24th, 2021 | Post by :- | 141 Views

डलहौजी : नागरिक अस्पताल डलहौजी में आक्सीजन जनरेशन प्लांट से तैयार हुई आक्सीजन शुद्धता के मानकों पर खरी उतरी है। आक्सीजन का स्तर मापने के लिए फरीदाबाद लैब में भेजा गया सैंपल पास हो गया है। सैंपल की रिपोर्ट आने के बाद प्लांट से ट्रायल बेस पर आक्सीजन उत्पादन शुरू कर दिया गया है। जल्द ही प्लांट विधिवत रूप से अस्पताल प्रबंधन को समर्पित कर दिया जाएगा। प्लांट से आक्सीजन उत्पादन प्रक्रिया के अस्पताल प्रभारी डा. बिपिन ठाकुर ने शुक्रवार को निरीक्षण किया।

आक्सीजन जनरेशन प्लांट भारत सरकार की रूलर इलेक्ट्रिफिकेशन कारपोरेशन (आरईसी) ने सीएसआर योजना के तहत करीब एक करोड़ से स्थापित करवाया है। प्लांट स्थापित करने का मुख्य उद्देश्य नागरिक अस्पताल डलहौजी सहित आसपास के क्षेत्रों में स्थित स्वास्थ्य संस्थानों में सुचारू रूप से आक्सीजन सप्लाई सुनिश्चित किया जाना है। हाल ही में प्लांट को स्थापित करने वाली कंपनी गेजेटरोन ने प्लांट से उत्पादित आक्सीजन का सैंपल शुद्धता जांच के लिए फरीदाबाद लैब में भेजा था।

अस्पताल के प्रभारी डा. बिपिन ठाकुर ने बताया कि प्लांट से आक्सीजन का सुचारू उत्पादन शुरू करने से पहले आक्सीजन की शुद्धता का स्तर मापना काफी जरूरी है ताकि सुनिश्चित किया जा सके कि उत्पादित की गई आक्सीजन का शुद्धता स्तर मानकों पर खरा उतरा है अथवा नहीं। उन्होंने बताया कि आक्सीजन की शुद्धता कम से कम 90 से 94 फीसद होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि प्लांट की आक्सीजन उत्पादन की क्षमता 400 एलपीएम है। उन्होंने कहा कि अन्य विभागीय औपचारिकताएं पूरी करने के बाद विधिवत रूप से प्लांट का शुभारंभ कर दिया जाएगा ताकि आगामी दिनों में न केवल डलहौजी अस्पताल बल्कि आसपास के अस्पतालों में भी आक्सीजन की किसी प्रकार की कमी नहीं रहेगी।

————

इन स्वास्थ्य संस्थानों में होगी आक्सीजन की आपूर्ति

डलहौजी अस्पताल में स्थापित किए गए आक्सीजन प्लांट से डलहौजी अस्पताल सहित सामुदायिक अस्पताल बाथरी, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बनीखे, बगढार व मेल सहित उपमंडल सलूनी के तहत आने वाले राजकीय स्वास्थ्य संस्थानों में भी आक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित हो सकेगी। प्लांट के शुरू होने से आपात स्थिति में किसी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।